पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छापेमारी अभियान:पुलिस ने शराब के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार कर भेज दिया जेल

सिमरी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पुलिस के लाख तत्परता के बाद भी शराब तस्करी का धंधा बंद होने का नाम नही ले रहा है ना ही शराब तस्करों के आदत में कोई सुधार होते दिख रहा है। स्थिति ऐसी हो गई है मानो पुलिस से उनकी खौफ खत्म हो गई है। थाना की भौगोलिक संरचना के कारण यह क्षेत्र शराब तस्करों के लिये सेफ जोन बना है। इस क्षेत्र में दिन के उजालों से लेकर रात के अंधेरे में आये दिन व्यापक रूप से शराब तस्करी धंधा जोरों शोर से चल रहा है।हालांकि

इक्का-दुक्का शराब तस्करों को पकड़ कर पुलिस अपनी पीठ जरूर थपथपा लेती है। शराब तस्करों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से पुलिस द्वारा जी तोड़ मेहनत कर इस धंधे को नेस्तनाबूद करने का दावा किया जा रहा है। लेकिन पुलिस की ये मेहनत कितना कारगर साबित हो रही है यह लोगों के बीच यक्ष प्रश्न बना हुआ है। शराब तस्करों के हौसले किस कदर बुलंद है।

इससे सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है की सोमवार की रात पुलिस द्वारा 100 पेटी शराब के साथ एक लक्जरी वाहन को मझवारी मोड़ के समीप से जब्त किया गया था।वही दूसरी रात भी पुलिस ने मझवारी दुल्हपुर मार्ग से एक शराब तस्कर को 50 लीटर देशी शराब के साथ गिरफ्तार किया। इसके साथ ही शराब तस्करी में प्रयुक्त होने वाली बाइक को पुलिस द्वारा जब्त कर लिया गया। बताया जा रहा है कि बलिहार गांव निवासी जलील

खान तीन गैलनों में लगभग 50 लीटर देशी शराब भरकर आसपास के क्षेत्रों में सप्लाई करने जा रहा था। इसी दौरान मीना दुबे के चिमनी के समीप पुलिस गश्ती दल की नजर उस पर पड़ गयी। वाहन देख उसे पुलिस द्वारा रुकने का इशारा किया गया। लेकिन वह वाहन छोड़ कर भागने लगा। लेकिन पुलिस की तत्परता के कारण उसकी एक ना चली और अंततः पुलिस के गिरफ्त में आ गया। इसकी पुष्टि थानाध्यक्ष सुनील कुमार निर्झर द्वारा की गई है।

खबरें और भी हैं...