वारदात / सिसवन में चोरी का विरोध करने पर महावीर मंदिर के पुजारी की हत्या, 11 मूर्तियाें की चोरी

Mahavir temple priest murdered for protesting against theft in Siswan, theft of 11 idols
X
Mahavir temple priest murdered for protesting against theft in Siswan, theft of 11 idols

  • हनुमानगढ़ी में बदमाशों ने रात को दिया घटना को अंजाम, पूजा कर छत पर सोए थे पुजारी
  • मुख्य द्वार का ताला तोड़े बिना घटना को अंजाम देने पर नजदीकियों पर ही शक

दैनिक भास्कर

Apr 17, 2020, 05:00 AM IST

सिसवन. चैनपुर ओपी थाना क्षेत्र के महेन्द्रनाथ मंदिर के निकट स्थित महावीर मंदिर हनुमानगढ़ी में बुधवार की रात पुजारी की पीट-पीट कर हत्या करने के बाद बदमाशों ने मंदिर में करीब तीन सौ वर्ष पुरानी  ग्यारह देवी देवताओं की तांबे से की प्रतिमाएं चोरी कर लीं। पुजारी की पहचान सारण जिले के मशरक थाना क्षेत्र के सरैया गांव निवासी 80 वर्षीय जनक दास उर्फ शुक्ल जी के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलने के बाद गुरुवार की सुबह एसडीपीओ जीतेन्द्र पांडेय आंदर प्रभाग के इंस्पेक्टर के साथ पहुंचे। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
बताया जाता है कि रोजाना की तरह बुधवार की रात वह पूजा-पाठ करने के बाद मंदिर की छत पर सो गए। जबकि साथ रहनेवाले भंडारी भुटेली बगल में स्थित महेंद्रनाथ मंदिर के तारकेश्वर गिरि के पास सोने चले गये। सुबह 4 बजे जब भुटेली महावीर मंदिर आए तो छत पर पुजारी का शव देख मामले की जानकारी तारकेश्वर गिरि को दी। तब मंदिर से नागेश्वर बाबा ठाकुर जी लक्ष्मी जी गणेश जी समेत 11 देवी देवताओं की मूर्ति मंदिर से गायब मिली। पुलिस के अनुसार पुजारी के सिर पर प्रहार कर हत्या की गई है। 

हसनपुरा में मारपीट की प्राथमिकी दर्ज
हसनपुरा| एमएचनगर थाना के हसनपुरा में आपसी विवाद में एक दूसरे पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इसमें एक पक्ष की सीमा बेगम ने 5 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया है। दूसरे पक्ष से कैफ हाशमी ने 7 लोगों को नामजद किया है। बता दें कि बीते 12 अप्रैल को दोपहर में आपसी विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच हुई मारपीट में चार महिला सहित 10 लोग घायल हो गए थे।

पुजारी के दो सहयोगियों से पुलिस ने की पूछताछ
पुलिस अधिकारियों ने मंदिर के पुजारी के दो सहयोगियों भुटेली मिश्रा व धनंजय मिश्रा को हिरासत में पूछताछ की। लेकिन, कोई सुराग नहीं मिला। हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस ने छपरा से डॉग स्क्वाड भी बुलाया। इसके आधार पर पुलिस घटना को अंजाम देने वाले बदमाशों के करीब तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। इस संबंध में एसडीपीओ ने बताया कि जल्द ही घटना का खुलासा हो जायेगा। मिली जानकारी के मुताबिक मंदिर के प्रवेश द्वार का ताला व गेट तोड़े बिना पुजारी की हत्या व मंदिर से मूर्ति की चोरी की घटना इस बात का संकेत दे रही है कि घटना में मंदिर से जुड़े नजदीकी लोगों का हाथ है। साथ ही मंदिर से चोरी की गई मूर्तियों की कीमत  40 से ₹ 50 हजार आंकी गई है। इतनी कम रकम की मूर्ति चोरी करने के लिए पुजारी की हत्या की बात भी आमजनों को पच नहीं रही है। घटना को ग्रामीणों से भी पूछताछ की जाएगी। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना