स्कूलों में पढ़ाई शुरू:केंद्रीय विद्यालय में 50 प्रतिशत,पर अन्य स्कूलों में 20% रही उपस्थिति

सीवान2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय विद्यालय में क्लास करते बच्चे। - Dainik Bhaskar
केंद्रीय विद्यालय में क्लास करते बच्चे।
  • जिले के 321 हाईस्कूलों में शुरू हो गयी पढ़ाई, अधिकांश स्कूलों में पहले दिन नहीं पहुंचे बच्चे
  • सोमवार से उपस्थिति बढ़ने की उम्मीद, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी

केंद्रीय विद्यालय सहित जिले के 321 हाईस्कूलों में शनिवार से पठन- पाठन शुरू हो गया। कोरोना की दूसरी रफ्तार थमने के बाद पहली बार हाईस्कूल में पढ़ाई शुरू हुई है। इसका शनिवार काे पहला दिन था। पहली से आठवीं क्लास तक के बच्चों का स्कूल 16 अगस्त से खुलेगा। पहले दिन केंद्रीय विद्यालय में 50 प्रतिशत लेकिन जिले के अन्य स्कूलों में छात्र-छात्राओ की उपस्थिति काफी कम रही। केंद्रीय विद्यालय के प्रिंसिपल योगेंद्र नाथ राम और कक्षा 10 के क्लास टीचर अजीत कुमार ने बताया कि केंद्रीय विद्यालय में 50 प्रतिशत उपस्थिति रही। जिले के अन्य स्कूलों में महज 20 फीसदी बच्चे ही क्लास करने पहुंचे। ग्रामीण इलाकोें के स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति काफी कम थी। सोमवार से स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ने की संभावना है। आर्य कन्या हाईस्कूल में भी 20 फीसदी छात्राएं पहले दिन क्लास करने आयी थीं। हेडमास्टर डॉ. अशफाक अहमद ने बताया कि 50 फीसदी क्षमता के अनुसार क्लास का संचालन करना है।

स्कूल आने का राेस्टर जारी
क्लास संचालन के लिए सूची तैयार कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि सोमवार को नौवीं क्लास के ए व डी तथा दसवीं क्लास के सेक्शन ए और डी की छात्राओ के लिए क्लास का संचालन हाेगा। मंगलवार को नौवीं क्लास के सेक्शन बी व सी तथा दसवीं क्लास के सेक्शन बी और सी की छात्राओं के लिए क्लास चलाई जाएगी। शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों के सभी हाईस्कूलों में 50% क्षमता के अनुसार पढ़ाई के लिए रोस्टर जारी की गयी है।

कल से होगा निरीक्षण
डीईओ मिथिलेश कुमार ने कहा कि स्कूल संचालन के दौरान निरीक्षण करना है। शिक्षकों व बच्चों की उपस्थिति की रिपोर्ट समेकित कर क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक सारण को भेजनी है। शनिवार को दिशा की बैठक थी। इस वजह से इस बैठक में अधिकारियों के शामिल होने की वजह से निरीक्षण नहीं किया गया। यह जानकारी क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक को दे दी गयी है।

स्कूल बस को दो बार सेनेटाइज करने का निर्देश
स्कूल बस को दो बार सेनेटाइज करना है। जारी आदेश के अनुसार बच्चों को लाने से पहले बस काे सेनेटाइज करना है। जबकि दूसरी बार स्कूल से बच्चों को घर छोड़ने से पहले सेनेटाइज करना है। बस के चालक और उपचालक को भी कोविड-19 का टीकाकरण कराना आवश्यक है।

नियोजन काे लेकर डीएवी स्कूल में क्लास स्थगित
शहर के डीएवी हाई स्कूल में पहला दिन क्लास स्थगित रहा। कारण कि इस स्कूल में शिक्षक नियोजन के लिए कैम्प लगाया गया था। नियोजन के लिए हो रही काउंसिलिंग के दौरान क्लास चलाना संभव नही था। इसलिए, क्लास स्थगित की गयी थी। इस वजह से पहले दिन स्कूल आए बच्चों को बिना क्लास किए ही घर वापस जाना पड़ा।

स्कूलों में आयोजित नहीं होगा समारोह, क्लास में असेंबली
स्कूल तथा शैक्षिक संस्थानों में वैसे समारोह आयोजित नहीं किए जा सकते हैं, जहां पर भौतिक और सामाजिक दूरी का पालन करना संभव नहीं हो सके। समारोह और त्योहार आदि के आयोजन स्कूलों में करने पर रोक लगाई गई है। स्कूलों में असेंबली का संचालन क्लास रूम में ही अलग-अलग किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं...