सीवान सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक का अध्यक्ष शराब मामले में अरेस्ट:RJD नेता के घर भेजी जा रही थी शराब, लालू परिवार का है करीबी

सीवानएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

तेज प्रताप यादव और तेजस्वी यादव के करीबी माने जाने वाले सीवान सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष और RJD नेता रामायण चौधरी को शराब के मामले में मंगलवार को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। मैरवा थाने में दर्ज शराब के मामले में मैरवा थाना और मुफ्फसिल थाना की पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया, 'सिंतबर में मैरवा थाने की पुलिस ने अंग्रेजी शराब से लदे एक ट्रक को बिहार-उत्तर प्रदेश के बॉर्डर स्थित धरनी छापर चेक पोस्ट से पकड़ा था। इसमें ट्रक के साथ-साथ 7 तस्करों को मौके से गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने पूछताछ में रामायण चौधरी के यहां डिलिवरी करने की जानकारी दी थी। इसके बाद गिरफ्तार तस्करों के बयान पर थाना कांड संख्या 299/21 दर्ज किया गया था। इसी केस में छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया गया है।'

पुलिस द्वारा संयुक्त छापेमारी में रामायण को घर से गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस द्वारा संयुक्त छापेमारी में रामायण को घर से गिरफ्तार किया गया है।

तेज-तेजस्वी के हैं करीबी, RJD से MLC चुनाव लड़ने की है तैयारी

बता दें, चौधरी RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे तेज-तेजस्वी के करीबी माने जाते हैं। 2020 के विधानसभा चुनाव में RJD से टिकट के लिए गोरियाकोठी विधानसभा से दावेदारी पेश की थी, लेकिन टिकट नहीं मिलने के कारण वह निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरे। बाद में तेजस्वी यादव के मनाने के बाद मान गए और अपना समर्थन दे दिया।

मिली जानकारी के अनुसार, वह सीवान से 2022 में होने वाला MLC चुनाव लड़ने की तैयारी में है। शराबबंदी से पूर्व वह शराब का कारोबार करता था। उस पर पूर्व में डेढ़ दर्जन से अधिक मामले दर्ज विभिन्न थानों में दर्ज है। जिसमें शराब से जुड़े कई मामले भी शामिल हैं।

मेडिकल जांच के लिए रामायण को सीवान सदर अस्पताल लाया गया है।
मेडिकल जांच के लिए रामायण को सीवान सदर अस्पताल लाया गया है।