निर्णय:संपत्तियों काे नीलाम कर ऋण की वसूली होगी

सीवान12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के सहकारी बैंक, दी सीवान सेन्ट्रल कोऑपरेटिव ने अपने कर्ज की अदायगी के लिए कड़े कदम उठाने का निर्णय लिया है। बैंक का करीब 2 करोड़ 50 लाख रुपये 98 डिफॉल्टरों बकाया है। बैंक ने सर्फेसी एक्ट के तहत अपने शक्तियों का प्रयोग करने का फैसला किया है। कर्ज चुकता करने में विफल डिफॉल्टरों की कोलैटरल सिक्योरिटी के रूप में रखी गई (बंधक) संपत्तियों की नीलाम कर सूद समेत ऋण की वसूली होगी। बैंक का निदेशक मंडल पूर्व में ही सर्फेसी एक्ट को अंगीकृत किया है। दी सीवान कोऑपरेटिव बैंक के प्रबंध निदेशक निकेश कुमार ने कहा कि सभी शाखाओं के डिफॉल्टरों पर कार्रवाई करने का आदेश जारी किया जा चुका है। डिफॉल्टरों पर बैंक की संबंधित शाखाओं को कार्रवाई करनी है।

खबरें और भी हैं...