निरीक्षण / एक जून से चलने वाली ट्रेनों को लेकर सीवान स्टेशन पर तैयारी का डीआरएम ने लिया जायजा

DRM takes stock of preparations at Siwan station for trains running from June 1
X
DRM takes stock of preparations at Siwan station for trains running from June 1

  • मुख्य गेट पर ही यात्रियों के लिए सोशल डिस्टेंस बनाकर स्टेशन पर प्रवेश कराने के लिए निर्देश दिया
  • यात्रियों के बीमार रहने पर त्वरित गति से इलाज करने के लिए मेडिकल टीम को निर्देश

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

सीवान. छपरा- गोरखपुर रेलखंड पर एक जून से चार ट्रेनों का परिचालन होगा। इसके लिए तैयारी पर विशेष जोर दिया जा रहा है। वाराणसी रेल मंडल के पीआरओ वीके पंजियार शुक्रवार को सीवान स्टेशन पहुंचे। दोपहर में स्टेशन का निरीक्षण किया। साथ ही देखा कि टेन परिचालन होने पर यात्रियों के लिए क्या सुविधाएं उपलब्ध है। डीआरएम ने सीवान स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या तीन पर उतरे। वे तीन व दो नम्बर प्लेटफॉर्म का जायजा लिया। इसके बाद वे एक नम्बर प्लेटफॉर्म पर आए। वहां पर पानी की व्यवस्था को देखा।

स्वचालित सीढ़ी के बारे मेें भी जानकारी ली। प्लेटफॉर्म संख्या एक पर खड़ी श्रमिक ट्रेन के यात्रियों से बात की। उन्होंने यात्रियों से भी पूछा कि सीवान स्टेशन पर खाना और पानी मिला है या नहीं। ट्रेन के रुकते ही स्टेशन पर सभी यात्रियों के लिए  सतु, प्याज, नमक, चटनी व पानी उपलब्ध करा दिया गया था। यात्रियों ने खाना मिलने की बात स्वीकार की। इसके बाद डीआरएम ने टिकट वेटिंग हॉल व सर्कुलेटिंग एरिया का भी निरीक्षण किया। मुख्य गेट पर ही यात्रियों के लिए सोशल डिस्टेंस बनाकर स्टेशन पर प्रवेश कराने के लिए निर्देश दिया।

डीआरएम ने कहा कि प्रवेश के दौरान मुख्य गेट पर ही कफर्म टिकट जांच के बाद ही अंदर प्रवेश की अनुमति देंगे। साथ ही वहां पर थर्मल स्केनर से भी जांच की जाएगी। मोबाइल में आरोग्य सेतु एप लोड होना अनिवार्य किया गया है। साथ ही फेस मास्क भी होना चाहिए। अगर किसी यात्री के पास फेस मास्क नहीं है तो उसे भी यात्रा की अनुमति दी जाएगी। लेकिन उसे पूरी तरह से रोका नहीं जाएगा। 

ट्रेनों में यात्री के बीमार होने पर त्वरित इलाज करेंगे
डीआरएम ने डीसीआई को निर्देश दिया कि ऐसे यात्रियों को फेस मास्क उपलब्ध कराएंगे। इसके बाद उसे यात्रा की अनुमति देंेगे। डीआरएम ने रेलवे अस्पताल के चिकित्सा प्रभारी को निर्देश दिया कि वे मेडिकल टीम का गठन करेंगे। साथ ही ट्रेनों में यात्री के बीमार होने पर त्वरित गति से इलाज करेंगे। स्टेशन अधीक्षक को सफेद चादर रखने का निर्देश दिया। अगर कोई शव आता है तो सफेद चादर से उसे ओढ़ाना है। शव को सम्मान के साथ उसके घर भेजवाने का भी इंतजाम करना है।  डीआरएम ने पीआरएस काउंटर का भी निरीक्षण किया।

उन्होंने रिजर्वेशन के दौरान आधार कार्ड की कॉपी या उसका नम्बर मांगने का निर्देश दिया। साथ ही टिकट कराने वालों को इस बात की जानकारी भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया कि दिए गए आधार कार्ड का नम्बर ट्रेन में मिलान कराया जा सकता है। इसके साथ ही अन्य तरह की भी तैयारियों का जायजा लिया। इसके बाद छपरा स्टेशन पर निरीक्षण करने चले गए। इस मौके पर स्टेशन अधीक्षक नवनीत कुमार, डीआई गणेश यादव, आरपीएफ के इंस्पेक्टर अजय कुमार सिंह, राकेश कुमार, सीएचआई संजय यादव, टीसीआई बीपीएन मंडल, संजय पांडेय आदि मौजूद थे।

सामाजिक दूरी का पालन करना होगा
सभी यात्रियों को यात्रा के दौरान फेस कवर मास्क पहनना होगा साथ ही स्टेशन और ट्रेनों के अंदर भी सामाजिक दूरी का पालन करना होगा। अपने गंतव्य पर पहुंचने पर यात्रियों को राज्य व केन्द्र शासित प्रदेशों द्वारा निर्धारित स्वास्थ्य प्रोटोकाल का पालन करना होगा।  ट्रेन के भीतर कोई लिनेन, कंबल और पर्दे उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे। यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे अपना लिनेन, भोजन और पानी साथ लेकर यात्रा करें।  एसी कोचों के भीतर का तापमान उपयुक्त रूप से नियंत्रित रखा जाएगा। यात्रियों को कम सामान के साथ सफर करने की सलाह दी जाती है।

ट्रेनों में निर्धारित कोटे लागू रहेगी
यात्रियों से संबंधित रियायतों के अंतर्गत नियमित ट्रेनों में स्वीकृत सभी कोटे की अनुमति दी जाएगी और दिव्यांगजन की केवल 4 श्रेणियों एवं रोगियों की 11 श्रेणियों में रियायत दी जाएगी। टिकट रद्दीकरण और वापसी के लिए रेलवे यात्री (टिकट रद्दीकरण और किराया वापसी) नियम,2015 लागू होगा। अन्य नियमित यात्री सेवाएं, जिसमें  सभी मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें हैं ,यात्री और उपनगरीय रेल  सेवाएं अगले निर्देश तक रद्द रहेंगी। आई आर सी टी सी केवल  सीमित ट्रेनों में भुगतान के आधार पर खाने-पीने और सीलबंद पीने का पानी की व्यवस्था करेगा

श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों के अलावा सीवान होकर चार ट्रेनें
वाराणसी रेल मंडल के पीआरओ अशोक कुमार ने बताया कि एक जून से चलने वाली  ट्रेनों की रेलवे ने लिस्ट भी जारी कर दी है। सीवान स्टेशन होकर चार ट्रेनें का परिचालन होगा। इसमें सुपरफास्ट वैशाली एक्सप्रेस, सुपरफास्ट बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, शहीद व कर्मभूमि एक्सप्रेस शामिल है। यह 200 यात्री ट्रेनें पहले से चलाई जा रहीं 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों और श्रमिक ट्रेनों के अतिरिक्त चलेंगी । इनमें एसी और नॉन एसी के अलावा जनरल कोच भी होगा। रेलवे की ओर से जारी सूची में दुरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और पूर्वा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के नाम हैं।

यह ट्रेनें एसी और नान एसी क्लास और जनरल कोच के साथ पूरी तरह से आरक्षित ट्रेनें होंगी, जिसमें यात्रा करने के लिए सभी श्रेणी के कोचों में आरक्षण अनिवार्य है। यात्रियों की सुविधा के  लिए  पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के प्रमुख स्टेशनों मांडुवाडीह, गाजीपुर सिटी, बलिया, छपरा, सीवान, देवरिया,मऊ एवं आजमगढ़ के कम्प्यूटरीकृत यात्री आरक्षण केन्द्र सिंगल शिफ्ट(प्रातः 08:00 बजे से सायं 04:00बजे) तक के लिए खोले गए हैं। 

इस ट्रेनों से यात्रा करने के लिए रेलवे प्रशासन ने पैसेंजर गाइडलाइंस भी जारी किया है, जिसे  जानना जरूरी है। रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों का प्रवेश और निकास अलग-अलग द्वार से होगा। स्टेशनों एवं ट्रेनों में मानक सामाजिक दूरी और रक्षा,सुरक्षा और स्वच्छता प्रोटोकाल का पालन किया जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना