पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सीवान:सारण में तटबंध टूटने से 29 पंचायतों के 63 गांवों में बाढ़

सीवानएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला परिषद स्थित सभा कक्ष में गुरुवार को जिले में आयी बाढ़ की विभीषिका को देखते हुए प्रभारी मंत्री सह कला संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया । समीक्षात्मक बैठक में सभी जनप्रतिनिधियों ने अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं से अधिकारियों को अवगत कराया।इस दौरान प्रभारी मंत्री ने बाढ़ पीड़ितों तक तत्काल सहायता पहुंचाने का निर्देश दिया। मंत्री ने सड़क, बिजली, स्वास्थ्य, कृषि, बाढ़, आपदा राहत सहित संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की गहन समीक्षा की।

अपर समाहर्ता रमन कुमार सिन्हा ने विभाग के द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यों के संबंध में जानकारी विस्तार पूर्वक दी। प्रभारी मंत्री ने कहा कि सभी जनप्रतिनिधि अपने अपने क्षेत्र के समस्याओं को लिखित रूप में जिला स्तरीय अधिकारी को दे ताकि उनके द्वारा समाधान किया जा सके। उन्होंने प्रखंड स्तर पर अनुश्रवण कमिटी का गठन करने का निर्देश दिया ताकि पंचायत स्तर तक समस्याओं को समाधान किया जा सके।

बैठक में बताया गया कि जिले के गोरेयाकोठी, लकड़ीनबीगंज, बसंतपुर एवं भगवानपुर हाट प्रखंड के 29 पंचायतों के 63 गांव सारण तटबंध टूटने से बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। इससे करीब 56 हजार 915 जनसंख्या प्रभावित है। इन प्रभावित गांवों में 56 नावों का परिचालन किया जा रहा है। धमई एवं घोघरी नदी के चलते भी बाढ़ का पानी इन क्षेत्रों में बढ़ गया है। इसको लेकर जिला प्रशासन द्वारा 36 सामुदायिक किचेन चलाया जा रहा है। छह हजार 500 के करीब पॉलीथिन शीट्स का वितरण पीड़ितों के बीच कराया जा चुका है।

इसके अलावा बर्तन, सूखा राशन, मोमबत्ती, सलाई सहित अन्य आवश्यक सामग्रियों का वितरण कराया जा रहा है। लोगों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में 420 कोरोना टेस्ट किया गया था। इसमें एक पॉजिटिव मिला है। शुद्ध पेयजल, शौचालय की व्यवस्था कराई जा रही है। करीब एक हजार से अधिक पशु की चिकित्सा कराई गई है। जुलाई महीने में 500.630 एमएम बारिश हुई थी। जिससे फसल क्षति का सर्वे कराया जा रहा है। अल्पवधिक के धान व तोरिया के बीज का वितरण किया जा रहा है।

जिला प्रशासन की ओर से आवश्यकता अनुसार बाढ़ प्रभावित प्रखंडों में पेयजल के लिए 32 चापाकल और 44 अस्थाई शौचालय की व्यवस्था की गई है। लोगों की सहायता के लिए 40 सदस्य एनडीआरएफ टीम की तैनाती की गई। बैठक में डीएम अमित कुमार पांडेय ने बाढ़ ग्रसित क्षेत्रों में जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यों पर प्रकाश डाला। साथ ही एसपी अभिनव कुमार ने सुरक्षा से संबंधित गतिविधियों के बारे में बताया। विधायक सत्यदेव राम ने जिला प्रशासन पर राशन वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगाया।

सड़क, बिजली, स्वास्थ्य, कृषि, बाढ़, अपादा राहत सहित विभिन्न विभागों की गहन समीक्षा मंत्री ने की। प्रभारी मंत्री द्वारा सुझाव दिया गया कि बाढ़ की समस्याओं के अनुश्रवण हेतु प्रखंड प्रमुख की अध्यक्षता में प्रखंड के वरीय प्रभारी बीडीओ अंचलाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि के साथ एक बैठक का आयोजन कर समुचित कार्रवाई सुनिश्चित किया जाए ।मौके पर विधायक सत्यदेव राम, हेमनारायण साह, विधान पार्षद वीरेंद्र नारायण यादव, जिप अध्यक्ष संगीता देवी, आपदा प्रभारी संजय कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी जयराम पाल थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें