पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब भी सतर्कता जरूरी:24 घंटे में संक्रमित चार लोगों ने तोड़ा दम, महाराजगंज में दस दिन बाद एक की मौत

सीवान19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कोरोना वायरस तथा इससे संबंधित लक्षण वाले मरीजों की मौत की संख्या में भी गिरावट आई है। पिछले एक सप्ताह से मौत का सिलसिला भी कम हुआ है। 1 सप्ताह पहले जहां डेढ़ दर्जन के आसपास मरीजों की मौत हो रही थी। वही अब आधा दर्जन से कम मरीजों की मौत हो रही। यह आंकड़ा जिले के लिए काफी राहत भरा है। पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में 4 लोगों की मौत हो गई । इसमें सदर अस्पताल के आईसीयू में 3 मरीज शामिल हैं। जबकि डायट स्थित डेडिकेटेड कोविड-19 सेंटर में पिछले 3 दिनों से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है। वही महराजगंज स्थित डेडिकेटेड कोविड-19 में 10 दिनों के बाद एक मरीज की मौत हुई है। इस तरह जिले में पिछले 24 घंटे के दौरान चार लोगों की मौत हुई है।

आईसीयू में इनकी गयी जान
आईसीयू में मरने वालों में तरवारा सतवार गांव के स्व. झगु प्रसाद का पुत्र राजेंद्र प्रसाद, शहर के लक्ष्मीपुर हनुमंत नगर के शंकर प्रसाद की पत्नी अंजनी तथा अंदर प्रखंड के जियाय गांव का राम सुभाष ठाकुर शामिल है। राजेंद्र प्रसाद 28 मई को इलाज के लिए आईसीयू में भर्ती कराए गए थे। जबकि अंजनी को 3 मई को इलाज के लिए आईसीयू में भर्ती कराया गया था। इनका इलाज काफी लंबा चला फिर भी इनकी हालत ज्यादा खराब होने के कारण बचाया नहीं जा सका। राम सुभाष ठाकुर 19 मई से आईसीयू में भर्ती थे। इन तीनों के शव को डॉक्टरों ने परिजनों को सौंप दिया। जहां से परिजनों ने राज्य सरकार के गाइडलाइन के अनुसार अंतिम संस्कार कर दिया।

महाराजगंज आए मरीज की हालत थी गंभीर
मुख्यालय के अनुमंडलीय अस्पताल में रविवार को एक मरीज की मौत हो गई। मृतक भगवानपुर थाने के मोरा बाजार के 40 वर्षीय रामजी प्रसाद था। मृतक को शनिवार को भर्ती किया गया था। गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया था, लेकिन समय से नहीं ले जाने के चलते मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...