पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Siwan
  • In The Midst Of The Sultry Summer, After The Mirganj Power Sub station, The Residents Of The City Are Not Getting Better Electricity.

परेशानी:उमस भरी गर्मी के बीच मीरगंज विद्युत सब स्टेशन होने के बाद शहरवासियों के नहीं मिल रही बेहतर बिजली

मीरगंज12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाम को विद्युत खपत 15 मेगावाट को पार कर जाता है जिसके कारण आपूर्ति ट्रिप कर जाती है

बरसाती गर्मी और उमस के बीच मीरगंज में विद्युत आपूर्ति का हालत गड़बड़ा जाने से नगर वासियों में नाराजगी देखी जा रही है। नगर वासियों का कहना है कि शाम ढलते ही बिजली के लुकाछिपी शुरू होने से ना तो उनके बच्चे पढ़ाई कर पा रहे हैं और ना ही कारोबारी अपना व्यवसाय ही समुचित ढंग से कर पा रहे हैं। नगर वासियों का कहना था कि जब नया विद्युत सब स्टेशन बदरजिमी में बनकर तैयार हो गया तो विभाग ने दावा किया था कि मीरगंज में अब बिजली की निर्बाध आपूर्ति होती रहेगी पर विभाग का यह दावा दावा ही रह गया और विद्युत की समस्या लगभग ज्यों की त्यों बनी रह गई। शहर की समाजसेवी सरोज कुमार रिंकू ने बताया कि शहर में रोजाना शाम को विद्युत कट होना रोजमर्रा की बात हो गई है जिसके कारण नगर वासियों में नाराजगी होना स्वाभाविक है। हैरत की बात है कि मीरगंज के आसपास के क्षेत्रों में शहर से बेहतर विद्युत आपूर्ति देखी जा रही है जो हथुआ फीडर से जुड़ा हुआ है। स्थानीय लोगों का कहना है कि सिर्फ विगत सप्ताह से अब तक यदि शहर में विद्युत आपूर्ति का रिकॉर्ड जांच किया जाए तो शाम में विद्युत आपूर्ति का सच शायद एक रिकॉर्ड ही बना जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों से बिजली के लिए ज्यादा चुकाते हैं शहरवासी पर मिल रही सेवा संतोषजनक नहीं : मीरगंज शहर में पहले विद्युत आपूर्ति शहर के पुराने विद्युत सब स्टेशन से होती थी और वहां से अधिक लोड होने के कारण बार-बार बिजली का ट्रिप होना आम बात था। कारण बताया जाता था कि पावर ट्रांसफार्मर कम पावर के होने के कारण यह समस्या पैदा हो रही है। ऐसे में शहर वासियों को बेहतर सुविधा देने के लिए शहर से पूरब बदरजिमी में एक नया सब स्टेशन का निर्माण किया गया ताकि इस समस्या को जड़ से मिटाया जा सके। इसमें स्थानीय पूर्व मंत्री रामसेवक सिंह का भी भरपूर सहयोग रहा। इसके बाद शहर में विद्युत आपूर्ति नए विद्युत सब स्टेशन से होने की बात कही गई पर इसमें आंशिक सफलता ही मिल पाई। यही कारण है।

शहर में विद्युत आपूर्ति और बेहतर बनाने का प्रयास जारी: कार्यपालक अभियंता
इस संबंध में संपर्क किए जाने पर स्थानीय कार्यपालक अभियंता विकास कुमार ने बताया कि शहर में विद्युत की पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है। यदा-कदा मेंटेनेंस के लिए या किसी समस्या के समाधान के लिए विद्युत आपूर्ति विच्छेद की जाती है जो आम बात है। वहीं दूसरी तरफ विद्युत विभाग के कर्मियों का कहना है कि शहर में शाम को विद्युत खपत 15 मेगावाट को पार कर जाता है जिसके कारण विद्युत आपूर्ति ट्रिप कर जाती है वही अभी तक नया बना विद्युत सब स्टेशन अभी पूरी तरह से अभी अपना सेवा नहीं दे रहा है। ऐसे में शहर में अभी आपूर्ति पुराने सब स्टेशन से करने की बाध्यता है जो शहर की पिक लोड को संभालने में असफल साबित हो रहा है।

खबरें और भी हैं...