योजना / लॉकडाउन में मनरेगा से मजदूरों के घर आएगी खुशी

MNREGA will bring happiness to laborers in lockdown
X
MNREGA will bring happiness to laborers in lockdown

  • सुपौली पंचायत में शुरू हुई योजना, सोशल डिस्टेंसिंग का भी रखा जा रहा है ख्याल

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 08:03 AM IST

सीवान. कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते लॉकडाउन का असर सबसे ज्यादा असर दिहाड़ी मजदूरों पर पड़ा है। उनका रोजगार पूरी तरह छिन चुका है लेकिन मनरेगा ने मजदूरेां के चेहरे पर एक बार फिर मुस्कान लौटाने का काम किया है। इससे प्रवासियों को भी सरकार के द्वारा काम दिया जा रहा है। इस समय मजदूरों के सामने रोजगार के संकट को मनरेगा के माध्यम से दूर किया जा रहा है।

पचरूखी प्रखंड के सुपौली पंचायत में मुखिया अमरजीत महतो के द्वारा मनरेगा से कार्य शुरू कराया गया है ताकि लोगों को लॉकडाउन के समय रोजगार मिल सके। सुपौली गांव में उत्तर टोला सरकारी पोखरा से लेकर बरगद पेड़ तक सोशल डिस्टेंसिंग के तहत कार्य कराना जा रहा है। मजदूरों को कार्य करने के दौरान मास्क व सेनेटाइज भी उपलब्ध कराया गया है।

मुखिया ने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए कार्य कराया जा रहा है। हमारी कोशिश है कि अधिक से अधिक लोगों को इस समय रोजगार मिल सके। मौके पर रोजगार सेवक मनिष कुमार, उमेश कुमार, रमेश सिंह, वकील चौधरी, अमरनाथ महतो ,भानु कुमार, धमेंद्र चौघरी मौजूद रहे।
सेवतापुर के मजदूरों को मनरेगा से मिलेगा रोजागर
मैरवा के सेवतापुर पंचायत में मुखिया पिंकी देवी ने शुक्रवार को सभी वार्ड सदस्यों के साथ बैठक कर मनरेगा के तहत मजदूरों को रोजगार को लेकर चर्चा किया। मुखिया पिंकी देवी ने  कहा कि इस वैश्विक महामारी में मजदूरों की स्तिथि को देखते हुए मनरेगा के तहत दर्जनों वार्ड में काम चालू किया जाय जिससे लोगों को रोजगार मिल सके तथा मजदूर अपना जीवन यापन कर सके। मुखिया पति सह भाजपा नेता रमेश कुमार सिंह ने प्रवासी मजदूरों से डोमडीह विद्यालय में बने कोरेन्टीन सेंटर पर रहने की अपील की। बैठक में पंचायत सचिव चंद्रमोहन सिंह, उप मुखिया पंचदेव प्रसाद,कार्यपालक सहायक वरुण गुप्ता, वार्ड सदस्य तेतरी देवी, प्रमोद शर्मा समेत दर्जनों लोग मौजुद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना