प्रेम प्रसंग में पंचायत भाजपा नेता को पड़ी महंगी:प्रेमिका ने खत लिखकर बता दिया था प्रेमी को-जनार्दन की मौत तय है

सीवान2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दम तोड़ने से पहले ही भाजपा मंडल के महामंत्री ने वीडियाे वायरल कर बता दिया था कातिलों के नाम
  • बच्ची की मां ने महाराजगंज थाने में दर्ज कराई थी प्राथमिकी

सुल्तानपुर खुर्द गांव में भाजपा गोरेयाकोठी मंडल के महामंत्री व पीडीएस दुकानदार जनार्दन प्रसाद सिंह की हत्या में नया मोड़ आ गया है। जानकारी के मुताबिक गोली लगने के बाद जब उन्हें अस्पताल ले जाया जा रहा था, तो उसी समय उन्होंने एक वीडियो वायरल किया था। उन्होंने उसमें हत्यारों के नाम का खुलासा किया है। जिन तीन लोगों के नाम उन्होंने लिया है उनमें से एक उनका पड़ोसी है। उसकी चचेरी बहन के बारे में बताया जाता है कि उसका संबंध गांव के ही एक युवक से था। बताते हैं कि श्री सिंह इस मामले के पंच बने हुए थे। चर्चाओं के अनुसार पंकज कुमार, जनार्दन प्रसाद सिंह का समर्थक था और उनकी सेवा में बराबर लगा रहता था।
पुलिस को हाथ लगा नाबालिग का पत्र
बताते हैं कि हत्या के मामले में परिवार के लोगों ने एक प्रेम पत्र भी पुलिस को सौंपा है, जो किसी नाबालिग द्वारा लिखा हुआ है और पंकज को संबोधित है। पत्र में नाबालिग ने स्पष्ट लिखा है कि जनार्दन की मौत तय है, जेल में या तो घर में। पंकज से इस बात की भी विनती की है कि कैसे भी करके वह उसे हासिल कर ले।

लीलारो गांव से बरामद हुई थी नाबालिग
पुलिस ने नाबालिग को गोरेयाकोठी थाना क्षेत्र के लीलारो गांव से कब्जे में लिया था। उसने पुलिस को दिए बयान में अपहरण के बारे में जनार्दन प्रसाद को ही जिम्मेदार बता दिया था।

कोचिंग जाने के दौरान हुआ था अपहरण
इस मामले में बच्ची की मां ने महाराजगंज थाने में 25 दिसंबर 2021 को प्राथमिकी भी दर्ज कराई थी। इसमें अपनी नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने के मामले में पंकज कुमार और उसके सहयोगियों को आरोपित किया था। आवेदन में सुल्तानपुर खुर्द निवासी रविंद्र सिंह की पत्नी उषा देवी ने जिन लोगों को नामजद किया था उनमें विजय महतो का पुत्र पंकज कुमार, विजय महतो, महातम शाह का पुत्र जितेंद्र शाह, जुगल शाह का पुत्र सुनील शाह शामिल है। आवेदन के अनुसार बच्ची महाराजगंज में अपने मामा के घर से साइकिल से कोचिंग गई थी

खबरें और भी हैं...