कोल्ड डे का असर:ठंडी हवा और कनकनी से हार गयी धूप की गर्मी

सीवान10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हवा की रफ्तार तेज होने से ठंड में तेजी से हो रही बढ़ोत्तरी, 10 दिनों तक न्यून तापमान में आएगी गिरावट

जिले में 2 दिनों से पूरी तरह कोल्ड डे का असर है। इस दौरान हवा की रफ्तार तेज है। इससे ठंड में प्रतिदिन बढ़ोत्तरी हो रही है। शुक्रवार की सुबह से ही धूप निकल आई, लेकिन हवा की रफ्तार तेज होने से ठंड में कमी होने की बजाय और बढ़ गई थी। इस वजह से सुबह में घर से बाहर आवश्यक कार्य के लिए निकलने वाले लोग भी सहम गए और सुबह में निकलने से परहेज कर दिए। आवश्यक काम काज वाले लोग दोपहर में ही घर से निकलना मुनासिब समझे। इस वजह से लोगों का आवश्यक कार्य भी प्रभावित हुआ। जिस तरह से हवा तेज चल रही है, इससे वातावरण में पूरी तरह से नमी आ रहे गई है। इससे लोगों को गलन भरी ठंड महसूस हो रही है। हाथ पैर में ठिठुरन आने से काम करने में भी कठिनाई उत्पन्न हो रही है। जिले में शुक्रवार को भी अधिकतम तापमान 21 डिग्री तथा न्यूनतम तापमान 9 डिग्री रहा। मौसम विभाग के वेबसाइट से मिली जानकारी के अनुसार अभी भी ठंड से लोगों को राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। अगले 10 दिनों तक न्यूनतम तापमान में और गिरावट होने की उम्मीद जताई गई है। जिस तरह न्यूनतम तापमान 9 डिग्री पर अभी ठंड का असर काफी ज्यादा है। अगर न्यूनतम तापमान में और गिरावट आएगी तो ठंड का असर लोगों के लिए असहनीय हो जाएगा।

धूप के बावजूद नहीं मिल रही ठंड से राहत
हालांकि अगले 1 सप्ताह तक मौसम विभाग के वेबसाइट पर कभी धूप तो कभी आकाश में बादल छाए रहने की संभावना जताई गई है। लोगों का कहना है कि ठंड के मौसम में धूप काफी सुहाना लगती है। लेकिन हवा की रफ्तार तेज होने से लोग ठंड के मौसम में धूप में भी बैठना पसंद नहीं कर रहे हैं। कारण के रूप में बैठने से ठंड से राहत के बजाय हवा के रफ्तार से शरीर में ठंड का असर और बढ़ रहा है। हालांकि पिछले सप्ताह जिस तरह से तापमान में बढ़ोतरी होने लगी थी। इससे लग रहा था कि अब ठंड का असर पूरी तरह खत्म हो जाएगा।

बर्फ की तरह ठंडा रहा पानी: शुक्रवार को पानी भी बर्फ की तरह ठंडा महसूस हो रहा था। टंकियों में पानी उपयोग करने के दौरान लोगों को काफी ठंडापन महसूस हो रहा था। इससे महिलाओं के लिए घरों में भी घरेलू कार्य करने में परेशानी महसूस हो रही है। ठंड का असर बढ़ने की वजह से जनजीवन पर भी पूरी तरह से असर पड़ रहा है। कोरोना वायरस की तीसरी लहर चल रही है। इससे ही बाजार में लोगों की संख्या कम आ रही है। इसमें भी ठंड का असर ज्यादा होने से लोग शहर भी कम आ रहे हैं इससे व्यवसाय भी प्रभावित हो रहा है।

खबरें और भी हैं...