कोरोना का कहर / दंपती की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर नया बाजार मोहल्ला सील

The new market seals on the couple's report coming to Corona positive
X
The new market seals on the couple's report coming to Corona positive

  • घर के आसपास का इलाका कंटेनमेंट जोन घोषित, किसी के आने-जाने पर लगाई गई पाबंदी, नियम तोड़ने पर होगी कार्रवाई

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

सीवान. शहर में पति-पत्नी के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद नगर परिषद ने मोहल्ले को सील कर दिया गया है। शहर की बड़ी मस्जिद के पीछे स्थित नया बाजार सोनारटोली में उनका घर है। जिला प्रशासन के निर्देश के आलोक में नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी बसंत कुमार पीड़ित के घर व उसके आसपास वाले क्षेत्र को सील कर दिया गया है।

अब सील होने वाले क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति नहीं जाएगा। ईओ ने बताया कि सूचना मिलने के बाद से ही सील करने की कार्रवाई की गई। एसडीओ रामबाबू बैठा ने बताया कि उसके घर के आसपास वाले क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। इधर, कोराना के मरीज मिलने के बाद लोगों के बीच दहशत है। 

आज हाेगी संदिग्धों की जांच
शहर में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद जिस तरह से संपर्क में आने वाले लोगों की सूची बनाने व जांच कराने में धीमी गति से प्रक्रिया अपनाई जा रही है। इससे लगता है कि शहर में  इन मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों की संख्या बढ़ सकती है। इस वजह से भी शहरी क्षेत्र के लोगों के बीच दहशत है। डब्लुएचओ की एसएमओ डॉ. शैली गोखले ने कहा कि इस संदर्भ में कुछ भी जानकारी देने के लिए मै अधिकृत नहीं हूं। सिविल सर्जन डॉ. यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि संपर्क में अाने वाले किसी भी व्यक्ति की सोमवार को जांच नहीं कराई गई है। मंगलवार को जांच कराई जाएगी। सूची तैयार कराई जा रही है।  बाजार पर भी पड़ा असर
शहर में मरीज मिलने का असर सोमवार को बाजार पर भी पड़ा। ग्रामीण इलाकों से लोग कम संख्या में शहर आए। इससे जाम नहीं लगा। इधर, जिस व्यक्ति में कोरोना वायरस पाया जाता है। उसके संपर्क में आने वाले लोगों की सूची तैयार कर उसका भी सैंपल लेकर कोरोना वायरस की जांच कराई जाती है। ताकि यह पता चल सके कि कितने लोगों में कोरोना का वायरस फैला है या नहीं फैला है।

इसकी सूची बनाने का काम डब्ल्यूएचओ की होती है। बनाई गई सूची के आधार पर ही स्वास्थ्य विभाग उन लोगों का सैम्पल कलेक्ट करता है। लेकिन शहर में दो लोगों के कोरोना पाॅजिटिव होने के दूसरे दिन भी किसी भी संपर्क में आने वाले किसी भी व्यक्ति की जांच के लिए सैम्पल नहीं लिया गया था। इसका कारण  है कि सोमवार की शाम तक संपर्क में आने वाले लोगों की सूची स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के पास नहीं आई थी।  

रोज 400 सैंपल की होगी जांच
जिले में लोगों के सैम्पल लेने की क्षमता बढ़ा दी गई है। शुरुआती दिनों में 20 सैंपल लिया जा रहा था। इसके बाद 160 सैंपल किया गया। बाद में इसे बढ़ाकर 300 कर दिया गया। लेेकिन अब सैम्पल लेने की क्षमता 400 कर दी गई है। इसमें से 125 सैम्पल की जांच सदर अस्पताल में हो रही है। जबकि शेष सैम्पल को जांच के लिए आरएमआई पटना भेजा जा रहा है।

सैम्पल लेने के लिए चार टीमें लगाई गई है। कोरोना वायरस की जांच के लिए सोमवार को सदर अस्पताल में तीसरी बार कैंप लगाया गया। शनिवार को लगाए गए कैंप में ही जांच के बाद पति- पत्नी कोरोना पाॅजिटिव पाए गए थे। अब शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीज के मिलने की शुरुआत हो गई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना