सोनपुर / सावन मास में श्रद्धालु नहीं कर पाएंगे बाबा का जलाभिषेक, बाबा हरिहरनाथ मंदिर 3 जुलाई से रहेगा बंद

Devotees will not be able to perform Baba's Jalabhishek in the month of Savan, Baba Hariharnath temple will remain closed from July 3
X
Devotees will not be able to perform Baba's Jalabhishek in the month of Savan, Baba Hariharnath temple will remain closed from July 3

  • कोरोना संक्रमण को देखते हुए बाबा हरिहरनाथ मंदिर न्यास समिति ने भक्तों के लिए पूरे श्रावण मास के दौरान बंद रखने का फैसला किया

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

सोनपुर. सोनपुर के बाबा हरिहरनाथ मंदिर में इस वर्ष सावन में श्रद्धालु न बाबा का जलाभिषेक कर पाएंगे न दर्शन और न ही पूजन। कोरोना संक्रमण को देखते हुए बाबा हरिहरनाथ मंदिर न्यास समिति ने महोत्सव और बाबा पर जलाभिषेक को पूरी तरह रद्द करते हुए आगामी 3 जुलाई से मंदिर के पट आम भक्तों के लिए पूरे श्रावण मास के दौरान बंद रखने का फैसला किया है। हालांकि, मंदिर प्रबंधन भक्तों को बाबा के आरती व शृंगार, पूजा दर्शन की लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था हो इसके इंतजाम के लिए प्रयासरत है।

मंगलवार को मंदिर परिसर में मंदिर न्यास समिति के अध्यक्ष सह डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय की अध्यक्षता में समिति के विभिन्न प्रकोष्ठों की हुई बैठक में यह सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया की कोरोना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर एक बार यह सोनपुर के प्रसिद्ध बाबा हरिहरनाथ मंदिर को दो जुलाई की रात्रि पूजा के बाद 3 जुलाई से पूर्णतः बंद कर दिया जाए। इस दौरान मंदिर की नियमित पूजा आरती तो होगी किंतु इसमें आम भक्त शामिल नहीं होंगे। पूजा आरती के इस धार्मिक विधि विधान को मंदिर के पंडा पुजारी सम्पन्न कराएंगे। 
बैठक में बिहार राज्य धार्मिक न्यास परिषद के कोरोना संक्रमण के दिशा निर्देश के आलोक में समिति ने यह निर्णय लिया कि तीन जुलाई से बाबा हरिहरनाथ मंदिर आम श्रद्धालुओं के लिए पूर्णतः बंद रहेगा। इस दौरान दैनिक पूजा, श्रृंगार व आरती आंतरिक रूप से मंदिर के पुजारी ही करते रहेंगे।

सावन में सोमवारी तथा प्रत्येक दिन बाबा का श्रृंगार व आरती सम्पन्न कराने वाले यजमानों को पति पत्नी समेत दो लोगों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी गई है। सोमवार को दिन यहां होने वाले बाबा के विशेष आरती एवं श्रृंगार के लिए परम्परा के अनुरूप अधिकृत भक्त ही पत्नी सहित दो की संख्या में पूजा सम्पन्न कराएंगे। दैनिक पूजा को छोड़कर यह मंदिर आम श्रद्धालुओं के लिए पूर्णतः बंद रखा जाएगा। बैठक में मंदिर न्यास समिति सचिव विजय कुमार सिंह लल्ला,कोषाध्यक्ष निर्भय कुमार रहे। 

लॉकडाउन के दौरान 80 दिनों मंदिर बंद रहने के बाद आगामी 8 जून को ऐहतियात के साथ खोला गया था
दूसरी ओर कोरोना संक्रमण को लेकर बाबा हरिहरनाथ मंदिर के बंद होने यहां सावन महीने भर उमड़ने वाली कांवरिया भक्तों में निराशा व्याप्त है। साथ ही लॉकडाउन के दौरान 80 दिनों मंदिर बंद रहने के बाद आगामी 8 जून को आम श्रद्धालुओं के लिए खुले मंदिर के पट को श्रावण के खास महीने में बंद होने की सूचना पर मंदिर के आस पास फूल, प्रसाद व पूजा सामग्रियों समेत अन्य दुकान लगाकर इस एक महीने में अच्छी कमाई के आस रखने वाले दुकानदारों में एक बार फिर निराशा छा गई।

विदित हो कि श्रावण मास में कांवरिये समेत हजारों की संख्या में भक्तों का रेला मंदिर में जलाभिषेक के लिए उमड़ती है। पहलेजा के दक्षिणायिनी गंगा का जल लेकर बाबा हरिहरनाथ मंदिर में जलाभिषेक कर फिर मुजफ्फरपुर के गरीब नाथ समेत अन्य देवालयों को जाने वाले शिव भक्तों से पटा यह हरिहर क्षेत्र सोनपुर में इस वर्ष संभवतः कोरोना को लेकर मंदिर के पट बंद होने से वीरानगी का नजारा रहेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना