पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धर्म कर्म:श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को लेकर शहर के मठ-मंदिरों में रहा उत्सवी माहौल

सोनपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अष्टमी पर बाबा हरिहरनाथ को बंशीधर श्रीकृष्ण के स्वरूप में सजाया गया

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को लेकर सोनपुर के विभिन्न मठ मंदिरों में उत्सव मनाया जा रहा है। इस अवसर पर यहां के प्रसिद्ध बाबा हरिहरनाथ मंदिर में बुधवार को बाबा का विशेष शृंगार किया गया। उन्हें श्रीकृष्ण के स्वरूप में सजाया गया। दूसरी ओर लोक सेवाश्रम में भी इस मौके पर धार्मिक आयोजन किया गया। यहां भजन कीर्तन तथा श्रीकृष्ण जन्मोत्सव का भव्य आयोजन किया गया। इसी क्रम में लोक स्व. आश्रम के अंत विष्णु दास उदासीन मौनी बाबा ने कहा कि श्रीकृष्ण की लीलाओं में जीवन के सारे सारांश निहित है।

श्रीकृष्ण ने अपने कर्मों के जरिये निष्काम कर्म का जो संदेश समाज को दिया वह अद्भुत है। गृहस्थ जीवन मे रहकर भी संन्यस्त होना यह श्रीकृष्ण ही सीखा सकते है। वे गोपालक भी हैं और शोषितों तथा अनाथों के नाथ भी हैं। जिसने श्रीकृष्ण को समझ लिया वह जीवन मे कभी विचलित नहीं हो सकता।

श्रीकृष्ण समरस समाज का संदेश देते हैं
उधर, राधा कृष्ण मंदिर के मुख्य पुजारी सतीश बाबा ने भी मंदिर में महोत्सव का आयोजन किया। बाबा हरिहरनाथ मंदिर के मुख्य अर्चक सुशील चंद्र शास्त्री ने बताया कि श्रीकृष्ण ही सखा भी है प्रेमी भी है और महान राजनीतिज्ञ भी है। वे कर्तव्य पथ पर चलते हुए समरस समाज को प्रेम का संदेश देते है। उनके मुख पर सदैव विराजमान मुस्कान सम्पूर्ण जगत को यह संदेश देता है कि किसी भी परिस्थिति में धैर्य नहीं खोना है। बुद्धि विवेक ही सर्वोपरि है। उससे बड़ी से बड़ी समस्या का निदान खोजा जा सकता है।

दूसरी ओर सोनपुर स्टेशन गेट स्थित नर्मदेश्वर मंदिर में भी कांग्रेस को जिला महासचिव सुधीर कुमार राय तथा कांग्रेस सेवा दल के पूर्व जिलाध्यक्ष जितेन्द्र कुमार सिंह के देखरेख में श्रीकृष्ण महोत्सव चल रहा है। वहीं सबलपुर हस्ती टोला में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को लेकर अष्टयाम यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। वहां भी भव्य रूप में पूजा पाठ व श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया जा रहा है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें