पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसा:रेल पुल पर रंगाई कर रहा पेंटर गंडक में गिरा, मछुआरे ने नाव से पहुंच बचाई जान

सोनपुर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पानी के तेज प्रवाह में लगभग आधे किमी पीछा कर सकुशल निकाला गया

सोनपुर-हाजीपुर रेल पुल पर रंगाई पुताई का कार्य कर रहा एक पेंटर बुधवार की सुबह अचानक गंडक नदी में गिर गया। उसके गिरते ही उसके साथ कार्य कर रहे सहयोगियों व घाट पर खड़े लोगों ने शोर मचाना शुरू किया। इसी दौरान नीचे सर्वाइज घाट पर मौजूद नाविकों ने उसे बचाने के लिए अपना नाव खोला और एक बार फिर बहादुरी का परिचय देते हुए पानी के तेज प्रवाह में लगभग आधे किमी पीछा कर उसे नौलखा घाट के थोड़ा आगे निकाल लिया। उसे बचाने में सवाईच निवासी नाविक नरसिंह सहनी तथा उसके सहयोगियों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए उस पेंटर को डूबने से बचा लिया।

घटना के प्रत्यक्षदर्शी समाजसेवी कृष्णा प्रसाद ने बताया कि घटना से काफी डरे सहमे दिख रहे उक्त पेंटर ने अपना नाम गुंजन कुमार तथा घर गढ़वा रोड बताया है। उन्होंने बताया कि घटना लगभग साढ़े आठ बजे सुबह की होगी। वह मॉर्निंग वॉक व योगा के साथ पुल घाट की साफ सफाई के लिए प्रतिदिन अपना श्रमदान करने के लिए घाट पर मौजूद रहते है। उन्होंने गंडक पुल पर पेंटिंग आदि मेंटनेंस कार्य के दौरान ठेकेदार के लापरवाही पर सवाल उठाया और कहा कि कार्य मे लगे मजदूरों के सुरक्षा के लिए कोई व्यवस्था न होने से यह घटना हुई वो तो नाविकों ने तुरंत उसे निकाल लिया वरना अप्रिय हादसा हो ही गयी थी।

दूसरी ओर इस तरह की घटना की जानकारी नहीं मिलने की बात आरपीएफ ने दी और कहा कि जानकारी जुटाई जा रही है। हालांकि, गंडक रेल पुल पर कार्य चलने की बात बताई। बताते चले कि 13 फरवरी को भी ठेकेदार की लापरवाही से सोनपुर स्टेशन के पूर्वी छोड़ पर कैरेज विभाग की पुरानी जर्जर भवन तोड़ने के दौरान 15 फीट गड्ढे में गिरे मजदूर चार फीट मलबा में दब गया था किसी तरह उसे जेसीबी के माध्यम से रेस्क्यू कर निकाला गया था।

खबरें और भी हैं...