तरारी के बहादुरपुर गांव की घटना:फूड प्वाइजनिंग से महिला की मौत, 24 लोग बीमार

तरारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ईमादपुर थाना क्षेत्र के बहादुरपुर गांव में विवाह के दौरान मड़वान का भोज खाने से करीब दो दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हो गये। 70 वर्षीया महिला लक्ष्मीना देवी, पति-सुदर्शन सिंह की मौत हो गयी है। ग्रामीणों के अनुसार बहादुरपुर गांव में उपेन्द्र सिंह की बेटी की शादी 13 दिसम्बर को विवाह था। बारात आने के पहले 11 दिसंबर को मड़वान था। जिसमें भोज कराया गया था। भोजन में चावल, दाल, सब्जी, फुलवरा था।

भोज के बाद ठीक उसी रात से दो तीन लोगों को पेट दर्द और कै-दस्त होने की शिकायत होने लगी। जिसके बाद धीरे-धीरे रोगियों की संख्या बढ़ने लगी। इसी बीच भोज में खाने गयी पड़ोस की बुजुर्ग महिला लक्ष्मीना देवी का अचानक ज्यादा कै-दस्त होने के कारण सोमवार को मौत हो गयी। मौत की घटना के बाद गांव में हाहाकार मच गया। जिसकी सूचना ग्रामीणों तरारी सीएचसी के प्रभारी अभयकांत चौधरी को दिया।

परिजनों ने सीएचसी में इलाज कराने के लिए लाया। तरारी सीएचसी में 19 मरीजों का इलाज किया जा चुका है। रोगियों की संख्या बढ़ते देख चिकित्सा पदाधिकारी अभयकांत चौधरी ने मेडिकल टीम के साथ बहादुरपुर गांव में कैम्प कर इलाज किया और उचित सलाह दिया। सीएचसी में राजेश्वर सिंह, रामप्रसाद, मुन्नी कुमारी, दुर्गावती देवी, चंदा कुमारी, बसंती देवी, सुरेश पंडित, मुश्ताक अंसारी, बाबू दिन अंसारी इत्यादि लोगों को समुचित इलाज किया गया। बाबूदीन अंसारी का अब भी सीएचसी में इलाज चल रहा है।

फूड प्वाइजिंग का मामला : डॉ. अभयकांत
चिकित्सा पदाधिकारी अभयकांत चौधरी ने कहा कि फूड प्वाइजन का मामला है। भोजन कैसे विषाक्त हुआ, यह जांच का विषय है। जिसके घर में शादी थी, वह पीरो और मोपति बाजार से भोजन का सामग्री खरीदकर लाया था। जिस भोजन के खाने से बीमारी हुई है, वह भोजन अब नहीं है।

खबरें और भी हैं...