पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छात्रा का शव घर में ही बाेरे में बंद मिला:लड़की ने सुसाइड नाेट में लिखा-साॅरी पापा, इस पाप काे मैं गंगा जल से भी नहीं मिटा पाती, गुड बाय

तरैया12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्लास्टिक में लपेट हुआ मृतका का शव - Dainik Bhaskar
प्लास्टिक में लपेट हुआ मृतका का शव
  • पिता ने कहा- छेड़खानी से तंग आकर आत्महत्या की, पुलिस से बचने शव को बोरे में बंद कर छिपाया
  • लोक-लाज या छेड़खानी से तंग आकर की आत्महत्या, पुलिस कर रही है सभी बिंदुओं पर जांच
  • दोनों के बीच एक साल से चल रहा था प्रेम प्रसंग, दो दिन पहले परिजनों ने साथ में देख लिया था

तरैया के पिपरा गांव में नौवीं कक्षा की 16 वर्षीय छात्रा ने प्रेम प्रसंग में परिजनों के हस्तक्षेप करने के बाद आत्महत्या कर ली। छात्रा की शव पुलिस ने उसी के घर से बंद बोरे से बरामद किया है। घर से लड़की द्वारा लिखी सुसाइड नोट भी बरामद की गयी है। छात्रा की पिता ने पुलिस को बताया कि उसे स्कूल जाने के दौरान दो युवक छेड़छाड़ करते थे, उसे देख और भी करने लगे। इस बीच मेरे चाचा का निधन हो गया तो मैं उनके यहां गया था।

इस बीच बच्ची ने पंखा में फंदा लगाकर जान दे दी। फंसने की डर से हमलोगों ने बोरे में बंद कर शव को घर में उपलों के बीच छिपा दिया। जानकारी के अनुसार पिपरा निवासी माधव राम की पुत्री आरती कुमारी गांव के ही बेसिक स्कूल पोखरेड़ा में 8 वीं कक्षा में पढ़ रही थी। स्कूल जाने के दौरान उसे कुछ लड़के छेड़ते थे।

पंखे की राॅड में दुपट्टा बांध फंदा लगा दे दी जान, मौके पर मिला सुसाइड नोट

पुलिस को परिजनों ने बताया कि दुपट्टा के सहारे घर के पंखे के रॉड के सहारे युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। अब हत्या है या आत्महत्या पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही खुलासा हो पाएगा। मृतिका के पिता माधो राम का कहना है कि गांव के दो लड़कों के द्वारा उसके नाबालिग पुत्री के साथ छेड़खानी व दुर्व्यवहार किया जा रहा था। जिससे तंग आकर उसकी पुत्री उस वक्त पंखे के रॉड में दुपट्टा बांधकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जब हम लोग घर से बाहर अपने पड़ोसी चाचा के निधन हो जाने पर उन्हें देखने घर से बाहर गये थे।

टॉर्चर हाेने के बाद किशोरी ने उठाया कदम

इधर पुलिस ने जांच-पड़ताल के बाद पाया कि घटना में प्रेम प्रसंग भी है। आरती कुमारी और भूषण राम एक ही विद्यालय में पढ़ते हैं। दोनों के बीच पूर्व से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। घटना के दो दिन पहले गांव के एक बंसवाड़ी में आरती और भूषण बातचीत कर रहे थे। जिसे गांव के कुछ लोगों ने देख लिया। जिसकी सूचना युवती के परिजनों को हो गयी।

फिर परिजनों ने लड़की से पूछताछ की और भला-बुरा सुनाया तथा लड़की को टॉर्चर किया। हो सकता है किशोरी इस घटना को बर्दाश्त नहीं कर पायी होगी और मौका मिलते ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया होगा। या हो सकता है। जब वह एकांत में अपने दोस्त से जब बात कर रही थी तब लोगों ने दोनों को देख लिया।

इस घटना के बाद वह सामाजिक लोक लाज खोने के भय से भी घटना को अंजाम दिया हो। अब किशोरी छेड़खानी से तंग आकर या सामाजिक लोक लाज के कारण घटना को अंजाम दिया है। पुलिस इन दोनों बिंदुओं पर अनुसंधान कर रही है। तथा शव को अंत्यपरीक्षण के लिए छपरा भेज दिया है।

घर की तलाशी में मिला शव

लड़की के परिजनों ने सुसाइड के बाद फंसने की डर से शव को बोरे में बंद कर उपलों के बीच में छिपा दिया था। इसकी भनक जैसे ही पुलिस को लगी ताे घर की तालाशी ली तो शव बरामद किया गया।

दो युवकों पर एफआईआर दर्ज

इस संबंध में मृतिका के पिता ने गांव के ही दो युवकों पर एफआईआर दर्ज कराई है। जिसमें भूषण राम और नीरज राम को अभियुक्त बनाया गया है। मृतिका के पिता का आरोप है कि उसकी पुत्री आरती और भूषण राम दोनों एक ही स्कूल में पढ़ते थे। युवती नौंवी की छात्रा है।

जबकि युवक भूषण मैट्रिक का छात्र है। जो इस वर्ष मैट्रिक का परीक्षा देने वाला है। जब आरती पढ़ने जाती थी। तब भूषण उसके साथ छेड़खानी करता था। फिर भूषण और उसका दोस्त नीरज दोनों ने मिलकर उसके साथ छेड़खानी एवं दुर्व्यवहार किया।

मरने से पहले युवती ने सुसाइड नोट में लिखा

छात्रा ने सुसाइड नोट में लिखा है कि सॉरी मां, सॉरी पिता जी, इस पाप को गंगा के जल से भी धोती तो नहीं मिटा पाती। इसलिए हमेशा के लिए गुड बाएं, जिस प्रकार सब हमें समझ रहे हैं वैसा हम नहीं है।

ये रह गए अनसुलझे सवाल

युवती सुसाइड नोट के द्वारा आखिर क्या कहना चाहती है? इसकी जांच भी पुलिस कर रही है। आखिर किशोरी किस पाप की जिक्र सुसाइड नोट में कर रही है? उसके मम्मी पापा उसे कैसा समझते थे। जो किशोरी ने लिखा है कि मैं वैसी नहीं हूं जैसे आपलोग समझते हैं। यह जांच का विषय है। अब पुलिस इन बिंदुओं पर जांच करेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser