पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अन्नादाता परेशान:उर्वरक उपलब्ध, पर सरकारी मूल्य से डेढ़ गुना अधिक कीमत पर मिल रही है यूरिया

वारिसलीगंज10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारियों और खाद विक्रेताओं की मिलीभगत में पिस रहे हैं क्षेत्र के किसान

प्रखंड के किसानों को धान खेत में डालने के लिए उर्वरक खरीदने के लिए नाकों चने चबाना पड़ रहा है। पिछले डेढ़ महीना से उर्वरकों के लिए किसानों के बीच हाहाकार मचा है। यूरिया की किल्लत को देखते हुए पिछले दो दिनों में कृफको और किसान यूरिया का रैक वारिसलीगंज पहुंच गया है। जिस कारण क्षेत्र के सभी दुकानों में यूरिया मिल रही है। लेकिन अधिकारियों और खाद विक्रेताओं की मिलीभगत से सरकार द्वारा तय कीमत के डेढ़ गुना अधिक कीमत पर यूरिया खरीदने को किसान मजबूर हो रहे हैं।

बता दें कि पिछले डेढ़ महीना से किसान यूरिया के अभाव में काफी परेशान हो रहे हैं। जबकि बाजार स्थित लाइसेंसी उर्वरक बिक्रेता यूरिया नहीं होने की बात कह किसानों को बैरंग लौटा दे रहे थे। तब लाचार किसान सुबह से शाम तक बिस्कोमान के पास खाद लेने को लेकर लाइन में खड़े रह रहे हैं। बावजूद मात्र कुछ किसानों को एक बोरा यूरिया किसी प्रकार मिल पाता था। बाकी सैकड़ों किसानों को बिना खाद लिए बैरंग घर वापस लौट जाना पड़ रहा था। यूरिया की कमी को पूरा करने के लिए तीन कंपनी की यूरिया का रैक आने का अनुमति प्राप्त हो गया था। जिससे किसानों को कम कीमत पर यूरिया मिल जाने उम्मीद जगी थी। अब रैक आने के बाद क्षेत्र के सभी दुकानों में पर्याप्त मात्रा में यूरिया उपलब्ध हो गया है। बावजूद सरकार द्वारा तय ₹266 के विरुद्ध पीओएस पर अंगूठा लगाने के बाद दुकानदार 350 सौ से लेकर ₹400 तक किसानों के पास यूरिया बेच रहे हैं।

खबरें और भी हैं...