जाम की सड़क:पटेल नगर के लोगों ने रास्ता खुलवाने को जाम की सड़क

वारिसलीगंज10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • थानाध्यक्ष के अनुरोध पर तीन घंटे बाद खुला जाम

वारिसलीगंज नगर पंचायत की वार्ड-20 की नई बसाबट मुहल्ले के लोगों ने रास्ता खुलवाने की मांग करते हुए शुक्रवार को तीन घंटे तक पकरीबरावां, बरबीघा स्टैंड पटेल चौक के पास सड़क पर अबरोधक लगा आवागमन अबरुद्ध कर दिया। बाद में थानाध्यक्ष पवन कुमार के अनुरोध पर सड़क यातायात शुरू हुआ। जाम कर रहे मोहल्लेवासियों ने कहा कि पटेल चौक से चीनी मिल जाने वाली सड़क एक व्यक्ति द्वारा बंद कर दी गई है। चीनी मिल से उत्तर में हाल के वर्षो में नया मुहल्ला बस चुका है।

जहां रहने वाले फिलहाल रेलवे गुमटी के बगल से गुजरी सड़क से आते जाते थे। अब जब रेलवेलाइन का दोहरीकरण का कार्य गति पर है। तब नई बसाबट मुहल्ले का मुख्य रास्ता बंद होने को है। जिसे देखते हुए उक्त मुहल्ले के लोगों द्वारा सड़क जाम कर प्रशासन से बंद चीनी मिल के रास्ते को खुलवाने की मांग किया गया। सड़क जाम के कारण पकरीबरावां, सिकन्दरा, जमुई, बरबीघा, बिहार शरीफ, कोलकाता सहित अन्य जगहों के लिए खुलने वाली वाहनों का आवागमन ससमय नहीं हो सका। लाेगाें ने कहा-प्रशासन व पुलिस की लापरवाही से बढ़ी समस्या: सड़क जाम कर रहे नगर पंचायत के वार्ड संख्या-20 के पार्षद लखन मांझी, वार्ड के पूर्व पार्षद ललन कुमार, धर्मेंद्र यादव, रंजीत यादव, मनोज कुमार,जीतन प्रसाद, चमरू मलिक, टुना मांझी, रामदेव मांझी सहित अन्य लोगों ने बताया कि स्थानीय अधिकारियों व पुलिस प्रशासन की लापरवाही के कारण पटेल चौक से चीनी मिल जाने के लिए सड़क का निर्माण दशकों पूर्व कराया गया था। जिस रास्ते को एक दबंग ने चार साल पहले अपना बताकर जबर्दस्ती बंद कर दिया है। जिसका विरोध हमलोगों ने उस समय भी पूरजोर तरीके से किया था। बावजूद चीनी मिल कर्मियों और स्थानीय पुलिस प्रशासन की मदद से लोहे का गेट लगाकर रास्ते को पूरी तरह बंद कर दिया।

खबरें और भी हैं...