• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Purnia
  • Coarse Cereals Are Rich In Iron And Fiber; It Is A Natural Food For Diabetics And Pregnant Women: Dr. Seema

सेहत की बात:मोटे अनाज में आयरन व फाइबर की प्रचुर मात्रा; यह डायबिटीज रोगियों व गर्भवती महिलाओं के लिए नेचुरल फूड : डॉ. सीमा

पूर्णिया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पोषण अभियान में शामिल कृषि वैज्ञानिक और प्रखंडों से आए किसान। - Dainik Bhaskar
पोषण अभियान में शामिल कृषि वैज्ञानिक और प्रखंडों से आए किसान।
  • कृषि विज्ञान केंद्र में पोषण वाटिका महाभियान व पौधरोपण कार्यक्रम का हुआ आयोजन

कृषि विज्ञान केंद्र जलालगढ़ में इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर को-आपरेटिव लिमिटेड के तत्वाधान से पोषण वाटिका महाभियान एवं पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन एवं अंतराष्ट्रीय पोशाक अनाज वर्ष- 2023 को लेकर आयोजित पोषण वाटिका महाभियान एंव पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें कृषि विज्ञान पूर्णिया के वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ.सीमा कुमारी ने महिला किसानों एवं स्कूली बच्चियों को मोटे अनाज एवं मिलेट्रस का दैनिक जीवन में महत्व व उपयोग के बारे में विस्तार से जानकारी देने के साथ-साथ पोषण वाटिका के महत्व पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि मोटे अनाज मकई, मडुवा, बाजरा आदि में काफी मात्रा में पोषक तत्व पाई जाती है। इसमें आयरन और फाइबर प्रचुर मात्रा में पायी जाती है। यह डायबिटीज रोगियों एवं गर्भवती महिलाओं के लिए नेचुरल फूड माना जाता है। इस कार्यक्रम में इफको पूर्णिया के क्षेत्र पदाधिकारी तुषार शेखर ने फलदार पौधों सब्जी बीज कीटों का वितरण किया। मौके पर बाल विकास परियोजना अधिकारी रंजन मौली ने कहा कि कुपोषण के कारण व बौनापन की समस्या नई पीढ़ी में सामान्यतः देखने को मिल रहा है जिसे पोषण वाटिका के माध्यम से कम किया जा सकता हैं। कार्यक्रम को संचालित करते हुए शस्य वैज्ञानिक डॉ. गोविन्द कुमार ने सभी किसानों को प्रक्षेत्र भ्रमण कराया। साथ ही केसीआरए प्रक्षेत्र पर तकनीक प्रदर्शन हेतु लगे मोटे अनाज मडुआ, बाजरा, सावा आदि को दैनिक आहार में महत्व पर जानकारी प्रदान की।मौके पर कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक दयानिधि चौबे, अजित कुमार के साथ रावे छात्र मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...