पूर्णिया में डबल मर्डर:अपराधियों ने पंसस और उनके बॉडीगार्ड को पहले तलवार से काटा, फिर गोली मारी; अस्पताल में दोनों ने तोड़ा दम

पूर्णिया5 महीने पहले
घटना के बाद रोते-बिलखते परिजन।

पूर्णिया जिले के बायसी थाना क्षेत्र अंतर्गत ताराबाडी पंचायत के सदस्य और उनके बॉडीगार्ड को अपराधियों ने बीते देर रात को तलवार व गोली मारकर बुरी तरह जख्मी कर दिया। गोली की आवाज से पूरे गांव दहल उठा। लोग पहुंचते तब तक हमलावर वहां से भाग गया। ग्रामीणों ने दोनों जख्मी को बायसी अस्पताल पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को पूर्णिया रेफर कर दिया। दोनों ने इलाज के दौरान ही बुधवार को दम तोड़ दिया। घटना के बाद पूरे गांव में तनावग्रस्त हो गया है।

मृतक की पहचान ताडाबाडी गांव के रहने वाले बजरूल आलम के बेटा पंचायत समिति सदस्य बने शहबाज़ आलम (36 वर्ष) एवं बायसी थाना क्षेत्र के आईजा गांव के रहने वाले शहबाज़ आलम के बोडी गार्ड मोहम्मद मुनाजीर (30 वर्ष) के रूप में हुई है। ने दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेज दिया।

बताया जा रहा है कि शहबाज़ आलम और गांव के मुखिया व सरपंच के बीच पंचायत चुनाव से ही विवाद चल रहा था। मुखिया और सरपंच को घुस लेते हुए शहबाज़ ने कुछ दिन पहले एक वीडियो वायरल कर दिया था। इसको लेकर शहबाज़ को बार बार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। बताया जा रहा है कि शहबाज़ को करीब 20 से अधिक बार तलवार से हमला किया गया.

परिजनों ने बताया कि शहबाज़ आलम अपने बडी गार्ड मुनाजीर के साथ गांव के एक चाय दुकान पर बैठा था। तभी गांव के मुखिया और सरपंच करीब 20 लोगों के साथ पहुंच गया और तलवार से हमला कर जख्मी कर दिया। जब मुनाजीर ने बचाने की कोशिश की तो हमलावरों ने उसे भी तलवार से हमला कर जख्मी कर दिया और शहबाज़ के शर में गोली मारकर मरा हुआ समझकर वहां से भाग गए। परिजनों ने गांव के मुखिया और सरपंच पर हत्या का साजिश रचने और हत्या करने व करवाने का आरोप लगाया है।

खबरें और भी हैं...