पूर्णिया के बाद अब बाढ़ ने किशनगंज में मचाई तबाही:लोगों के घर में घुसा बाढ़ का पानी, सैकड़ों एकड़ में लगी फसल भी बर्बाद

पूर्णिया3 महीने पहले

पूर्णिया जिले के अमौर व बैसा प्रखंड के ग्रामीण इलाकों में महानंदा, कनकई व परमान नदी तबाही मचाने के बाद अब किशनगंज में भी तबाही मचाना शुरू कर दिया। किशनगंज के टेढागाछ के भोरहा पंचायत अंतर्गत वार्ड 8 रामपुर गांव में व महानंदा नदी ने अपना विकराल रूप धारण कर लिया है।

बाढ़ का पानी अब लोगों के घर में घुस गया है। लोगों के आंगन में कमर भर पानी बह रहा है। नजारा ऐसा लगता है जैसे पूरे इलाके नदी में तब्दील हो गया हो। जिनके पक्का मकान है वह परिवार सहित छत पर चले गए हैं। घर का सारा सामान और खाने पीने का सामान पानी में तैर रहा है। अब लोग रात गुजारेगे कैसे और खाएंगे क्या यह सबसे बड़ी समस्या बन गई है। कई लोग तो हालात बिगड़ता देख गांव छोड़कर चले गए।

ग्रामीणों ने बताया कि खाने के लिए कुछ नहीं बचा है. बच्चे भूख से तड़प रहे हैं। मवेशी को कहां रखे यह भी बड़ी समस्या है। सैकड़ों एकड़ में लगे फसल भी बर्बाद हो गए। मेन रोड पर घुटना भर पानी बह रहा है। गांव से बाहर जाने वाले सभी रास्ते पर खतरा मंडरा रहा है। नदी का जलस्तर घटने के जगह बढते जा रहा है। लोग रात कैसे गुजारेगे यह चिंता का विषय बन गया है।

लोगों ने बताया कि इस इलाके में हर साल बाढ तबाही मचाती है। बाढ़ से बचाव व रोकथाम के लिए सरकार या प्रशासन के तरफ से किसी भी तरह के प्रयास नहीं किया गया। नहीं तो अब तक बाढ राहत सामग्री मिला है। जिससे लोगों की मुश्किलें दिनों दिन बढते जा रहा है।