• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Purnia
  • Manisha Singh's Eight year old Daughter Said This Shams Uncle Used To Come To My House, Used To Beat Up My Mother

मनीषा सिंह हत्याकांड:मनीषा सिंह की आठ साल की बेटी ने कहा-यही शम्स अंकल आते थे मेरे घर, मेरी मां के साथ करते थे मारपीट

पूर्णियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्य आरोपी शम्स को ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
मुख्य आरोपी शम्स को ले जाती पुलिस।
  • आरोपी शम्स को मनीषा सिंह की बेटी के सामने बिठाकर की पूछताछ

मनीषा सिंह हत्याकांड में कोर्ट में आत्मसमर्पण करने वाले मुख्य आरोपी शम्स को 24 घंटा के रिमांड में लेकर की गई पूछताछ में कई मामले सामने आए हैं। मनीषा सिंह की आठ साल की बेटी खुशी को आमने-सामने बिठाकर उससे पूछताछ की गई। मृतका की बेटी ने शम्स को देखते ही पुलिस को बताया कि यही शम्स अंकल मेरे घर मेरी मम्मी से मिलने आते थे। घटना से पूर्व भी मम्मी के मोबाइल पर इसी शम्स अंकल का फोन आया था और मेरी मम्मी बात करते हुए घर से निकली थी। इसके बाद मेरी मम्मी की लाश मिली थी। पुलिस ने बताया कि टेक्निकल टीम की जांच में शम्स का एक दोस्त जो बनभाग का रहने वाला है, इस हत्याकांड में उसकी भी संलिप्तता सामने आ रही है। उसकी गिरफ्तारी के बाद मनीषा सिंह हत्याकांड का खुलासा हो जाएगा। मंगलवार को मुफस्सिल थानाध्यक्ष संतोष कुमार झा व मुफस्सिल थाना के पूर्व थानाध्यक्ष संजय सिंह ने शम्स से मनीषा सिंह हत्याकांड में गहन पूछताछ की। पुलिस ने इतना बताया कि शम्स ने मनीषा सिंह हत्याकांड से जुड़े कुछ और लोगों के नाम बताए हैं जिसकी जांच कर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जाएगी। ज्ञात हो कि मनीषा सिंह हत्याकांड के पांच माह बाद भी पूर्णिया पुलिस हत्याकांड के मुख्य आरोपी शम्स को गिरफ्तार नहीं कर सकी थी।

20 मई को शम्स ने कोर्ट में किया था सरेंडर
मुख्य आरोपी शम्स ने 20 मई को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी निशांत प्रियदर्शी के कोर्ट में सरेंडर किया था। आत्मसमर्पण के बाद सोमवार को मुफस्सिल थाना पुलिस ने उसे 24 घंटे के लिए रिमांड पर लिया था। मंगलवार को मुफस्सिल थाना पुलिस शम्स से पूछताछ कर उसे केन्द्रीय कारा भेज दिया। 5 दिसम्बर को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के सौरा नदी किराने एक अज्ञात महिला की लाश मिली थी। 6 दिसम्बर को उस महिला की पहचान मनीषा सिंह पति शिव कुमार मिश्रा के रूप में हुई थी। लाश की पहचान मृतका की 8 वर्षीया बेटी खुशी कुमारी व अन्य परिजनों ने की थी। बेटी ने पहले ही दिन पुलिस पदाधिकारी के सामने कहा था कि मेरी मां शम्स के फोन आने के बाद घर से निकली थी। उसने पुलिस को यह भी बताया था कि शम्स उसके घर आया-जाया करता था और दीपावली के दिन उसने किसी बात को लेकर मम्मी के साथ मारपीट भी की थी। मनीषा सिंह के मोबाइल कॉल डिटेल व सीडीआर आदि में शम्स का नाम आ रहा था। मुख्य आरोपी शम्स मरंगा थाना क्षेत्र के मिल्की का रहने वाला है।

खबरें और भी हैं...