पूर्णिया में मक्का कारोबारी की हत्या:बदमाशों ने पहले अगवा किया, फिर मार डाला; शरीर पर जख्म के कई निशान

पूर्णियाएक महीने पहले

पूर्णिया जिले के टीकापट्टी थाना क्षेत्र अंतर्गत डूमरी गांव में शनिवार को एक सरकारी स्कूल के शिक्षक के घर से मक्का कारोबारी का लाश मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। घटना के बाद घटना स्थल पर लोगों की भीड़ लग गई। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच में जुट गई है।

मृतक की पहचान कटिहार जिले के कुर्सेला के रहने वाले सकलदीप चौरसिया (35 वर्ष) के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेज दिया। मृतक के परिजनों ने बताया कि सकलदीप मक्का का कारोबार करता था। किसानों से मक्का लेकर बाहर भेजता था।

टीकापट्टी थाना क्षेत्र के डूमरी गांव के रहने वाले सरकारी स्कूल के शिक्षक जोगिन्द्र मंडल के मक्के का करीब 35 हजार रुपये उधारी था। इसको लेकर जोगिन्द्र अक्सर रुपये के लिए परेशान करता था और रुपये नहीं देने पर जान से मारने की धमकी देता था. जिससे सकलदीप काफी डरा सहमा और परेशान रहता था।

मृतक के परिजनों ने बताया कि बीते शुक्रवार के रात करीब 9 बजे सकलदीप कुर्सेला बाजार गया था। तभी अज्ञात लोगों ने उसे जबरन गाड़ी में बैठाकर अपहरण कर ले गए। रात में काफी खोज तलाश की लेकिन कहीं भी पता नहीं चला। शनिवार को टीकापट्टी पुलिस ने फोन पर घटना की सूचना दी।

टीकापट्टी के डूमरी गांव गया तो देखा कि जोगिन्द्र मंडल के घर में बेड पर सकलदीप का शव पडा हुआ था। उसके शरीर पर जगह जगह चोट के निशान लगे हुए थे,।शव देखने से ऐसा लगता है कि जैसे सकलदीप के साथ बेरहमी से पीट पीटकर हत्या कर दी गई है। मृतक के परिजनों ने जोगिन्द्र मंडल और उनके परिवार के लोगों पर अपहरण कर हत्या करने का आरोप लगाया है।