तीन दिवसीय रथयात्रा महोत्सव का हुआ शुभारंभ:पूर्णिया सिटी स्थित भगवान जगन्नाथ स्वामी मंदिर में हुई सत्यनारायण पूजन

पूर्णियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्णिया सिटी सौरा तट पर अवस्थित भगवान जगन्नाथ स्वामी जी के मंदिर में तीन दिवसीय रथयात्रा महोत्सव का प्रारंभ स्वामी श्री सत्यनारायण पूजन के साथ हो गया। श्रीरामचरितमानस पाठ का आयोजन किया जा रहा है।ज्ञातव्य हो कि हर वर्ष जेष्ठ शुक्ल द्वितीया को भगवान जगन्नाथ जी की दिव्य रथयात्रा निकाली जाती है विगत 2 वर्षों के कोरोना काल के बाद इस वर्ष यह यात्रा तीन दिवसीय महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है ।भगवान जगन्नाथ की महिमा को बताते हुए पंडित श्री शंभू दयाल दूबे ने कहा भगवान जगन्नाथ की आंखें बड़ी बड़ी है।

भगवान बड़े कृपालु हैं भगवान अपने भक्तों को दर्शन देने के लिए स्वयं उनके घर तक जाते हैं यह परंपरा पूर्णिया सिटी में भी सैकड़ों वर्षों से अनवरत रूप से चल रहा है। उन्होंने बताया भगवान जगन्नाथ ऐसे तो परम वैष्णव हैं लेकिन रथयात्रा के दिन भगवान का आलिंगन भगवान के हर भक्त कर सकते हैं भगवान अपने बड़े-बड़े नेत्रों से भक्तों के कष्टों को देखकर हर लेते हैं।

पुराणों में उसकी महत्ता बताते हुए कहा गया है जो भी इस रथयात्रा में शामिल होता है वह समस्त पापों को त्याग पर भगवान का प्रिय बन जाता है इसलिए इस सौभाग्य का हम सभी को लाभ उठाना चाहिए। आगामी 1 जुलाई दिन शुक्रवार को भगवान की रथयात्रा नगर भ्रमण के लिए पूर्णिया सिटी

सदरथाना,खुस्कीबाग,कप्तानपाड़ा,गुलाबबाग जीरोमाइल, हसदा रोड होते हुए नाका चौक स्थित राधा मोहन ठाकुरबाड़ी में पूजन के उपरांत पुनः यात्रा जगन्नाथ मंदिर में आएगी। रथयात्रा महोत्सव के प्रारंभ में मुख्य यजमान के रूप में राजू मिश्रा उपस्थित रहे। इस मौके पर मंदिर समिति के कोर कमेटी के सदस्य, संरक्षण समिति के सदस्य, अन्य सदस्य,रामायण स्वाध्याय समूह के सदस्य और अनेकों भक्तगण उपस्थित थे ‌।

खबरें और भी हैं...