मौसम का कहर:आंधी-पानी से जनजीवन अस्त-व्यस्त कई घर उजड़े, बिजली सेवा बाधित

अमौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार की देर शाम आई आंधी-बारिश के बाद टूटा घर। - Dainik Bhaskar
सोमवार की देर शाम आई आंधी-बारिश के बाद टूटा घर।
  • लोगों ने कहा-बारिश में हुआ फसल बर्बाद, मिले मुआवजा

प्रखंड क्षेत्र में सोमवार की देर रात आई तेज आंधी और बारिश के कारण से जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। एक तरफ जहां आंधी से लोगों के घरों को नुकसान पहुंचा है, वहीं दूसरी तरफ मक्के की फसल को भी नुकसान पहुंचा है। आंधी बारिश के कारण धुरपैली पंचायत के वार्ड-05 में कई परिवारों का घर आंधी तूफान से ध्वस्त हो गया, वहीं कच्चे मकान के टीन के छत तेज हवाओं के साथ दूर तक चला गया। घरों में रखा सारा सामान अनाज आदि भींग गया। कई जगह पेड़ बिजली तार में टूट कर गिर गया है। इससे बिजली बाधित हो गई है। प्रखंड के आमगाछी पंचायत के रैली बलुवाटोली गांव वार्ड-10 में भी आंधी का ज्यादा असर देखने को मिला। यहां डेढ़ दर्जन परिवारों के घर उजड़ गए। घर का छप्पर उजड़ जाने के कारण से घर में रखा सारा सामान भींग गया। पीड़ित असलम, तालीम, वाहिद, सजाद, हसीब, खुर्शीद, सिराज, मज़बूल, सफीक, रहमान, उस्मान सुब्हान, सलाम सहित अन्य लोगों ने बताया कि रात में अचानक आई आंधी से हम सब के घर से टीन छत सहित अन्य जगह उड़ कर चले गए और किसी तरह हम सब बच्चों को लेकर जान बचा कर दूसरे के घर में गए। घर में रखा सारा सामान चावल, दाल, कपड़ा सहित अन्य सामान भींग गया है। खेत में लगी मक्के की फसल क्षतिग्रस्त हो गई। किसान ने बताया कि ऋण-कर्ज लेकर के मक्का एवं गरमा धान की खेती के थे, लेकिन बारिश हम सब को बर्बाद कर चुका है।

खबरें और भी हैं...