• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Saharsa
  • Today, 8 Thousand Candidates Will Give Preliminary Examination For The Selection Of Child Development Project Officer At 14 Centers, All Preparations Completed

दिशा-निर्देश:14 केंद्रों पर आज 8 हजार परीक्षार्थी देंगे बाल विकास परियोजना पदाधिकारी के चयन की प्रारंभिक परीक्षा, सभी तैयारियां हुईं पूरी

सहरसा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
परीक्षा के संदर्भ में दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी व केंद्राधीक्षकों को ब्रीफ करते डीएम। - Dainik Bhaskar
परीक्षा के संदर्भ में दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी व केंद्राधीक्षकों को ब्रीफ करते डीएम।
  • शहर के सभी फोटो स्टेट व साइबर कैफे सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक रहेंगे बंद

जिले के 14 परीक्षा केंद्रों पर आज बाल विकास परियोजना पदाधिकारी के चयन हेतु प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन होगा। बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा संचालित इस परीक्षा में जिले के 14 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित परीक्षा में कुल 8 हजार परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा का आयोजन एक ही पाली में दिन के 12 बजे से 2 बजे तक होगा। परीक्षा से संबद्ध सभी उम्मीदवारों को प्रवेश पत्र इंटरनेट के माध्यम से उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। परीक्षा के सफल संचालन के लिए सभी परीक्षा केंद्रों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस बल की नियुक्ति की गई है। परीक्षा संचालन पर नियंत्रण रखने हेतु समाहरणालय में नियंत्रण कक्ष बनाया गया है जिसका दूरभाष संख्या 06478-224102 है। साथ ही परीक्षा के दिन 15 मई को पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न 2 बजे तक शहर के सभी फोटो स्टेट एवं साइबर कैफे को पूर्णत: बंद रखने का आदेश दिया गया है।

परीक्षा हॉल के अंदर डेढ़ घंटा पहले मिलेगा प्रवेश : उम्मीदवार को परीक्षा केंद्र के अंदर परीक्षा शुरू से डेढ़ घंटा पहले यानी 10.30 बजे से 11.45 बजे तक ही परीक्षा केंद्र के भीतर प्रवेश करने की अनुमति दी गई है। गेट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी अभ्यर्थियों एवं वीक्षकों की जांच कर तथा उचित पहचान पर ही परीक्षा केंद्र के भीतर प्रवेश की अनुमति देंगे। परीक्षार्थी मात्र प्रवेश पत्र एवं कलम लेकर ही परीक्षा केंद्र के भीतर प्रवेश करेंगे। किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में मोबाइल, ब्लूटूथ, वाई-फाई गैजेट, इलेक्ट्रॉनिक पेन, पेजर जैसे इलेक्ट्रॉनिक सामग्री तथा व्हाइटनर, इरेजर एवं ब्लेड जैसे सामग्री ले जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

इन सेंटरों पर आयोजित हो रही परीक्षा
परीक्षा प्रारंभ होने के बाद किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। परीक्षा अवधि की समाप्ति से पूर्व किसी भी परीक्षार्थी को बाहर निकलने की अनुमति नहीं मिलेगी। साथ ही परीक्षा केंद्र के 200 गज के दायरे में घूमने तथा भीड़ इकट्ठा करने की अनुमति नहीं है। केंद्राधीक्षकों को परीक्षा केंद्र के जिस परीक्षा हॉल में दीवार घड़ी नहीं है उस जगह पर दीवार घड़ी लगाने तथा जहां प्रश्न पत्र खुलेगा। वहां पर सीसीटीवी या वेब कैमरा लगाने का निर्देश दिया गया है। परीक्षा के सफल संचालन के लिए जिला स्कूल, राजकीय कन्या उच्च विद्यालय, अनुग्रह नारायण सिंह स्मारक उच्च विद्यालय, रमेश झा महिला कॉलेज, मनोहर उच्च विद्यालय सहरसा,एमएलटी कॉलेज, आरएम लॉ कालेज, आरएम कॉलेज, सर्व नारायण सिंह राम कुमार सिंह कॉलेज, बनवारी शंकर कॉलेज सिमराहा, इवनिंग कॉलेज सहरसा, एकलव्या सेंट्रल स्कूल सुनिलंदाबाद एवं संत जेवियर्स स्कूल पटुआहा में परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...