सहरसा में शिक्षिका ने वार्ड सदस्य को मारा थप्पड़:जांच टीम के सामने मारा था, ग्रामीणों में आक्रोष

सहरसा2 महीने पहले
सहरसा में शिक्षिका ने वार्ड सदस्य को मारा थप्पड़

सहरसा जिले के नवहट्टा प्रखंड अंतर्गत मोहनपुर पंचायत के उर्दू र्प्राथमिक विद्यालय फेकराही में 1 वर्ष से एमडीएम बंद है।एमडीएम बंद रहने की शिकायत ग्रामीणों के द्वारा विभाग को दी गयी थी।एमडीएम बंद रहने को लेकर जांच टीम पहुंची। जांच टीम के सामने एक महिला शिक्षिका ने महिला वार्ड सदस्य के ऊपर उठाया थप्पड़ ,जिसका वीडियो इनदिनों सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं इस घटना को लेकर ग्रामीणों में कफी अक्रोष है।

मालूम हो कि बीते 21 नवंबर सोमवार को फेकराई के वार्ड सदस्यों ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को 1 वर्ष से एमडीएम बंद रहने को लेकर शिकायत किया गया था। ।ग्रामीणों ने विद्यालय में एमडीएम चालू कराने की मांग की थी ,जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बीते सोमवार 28 तारीख को विद्यालय में जांच के लिए टीम को भेजा ,जहां जांच पदाधिकारी की मौजूदगी में ग्रामीण व विद्यालय प्रबंधन समिति की अध्यक्ष वार्ड सदस्य अफसाना खातून ने विद्यालय में एमडीएम नहीं चलाने की शिकायत की। इसके बाद जांच स्थल पर ही ग्रामीण व शिक्षक में भिड़ंत हो गई फिर हाथापाई होने लगी। इस पर जांच टीम किसी तरह वहां से भाग खड़े हुए।

इस वायरल में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि कैसे विद्यालय की सहायक शिक्षिका यासमीन परवीन वार्ड सदस्य अफसाना खातून के ऊपर थप्पड़ उठाते नजर आ रही है।वहीं विद्यालय के एचएम सहित सहायक शिक्षकों का आरोप है कि पहले ग्रामीणों ने हाथापाई की उसके बाद अपनी सुरक्षा में शिक्षकों को हाथापाई करनी पड़ी ।बी ई ओ सत्य प्रकाश सिंह ने बताया कि राज्य सूचना आयोग में चले आने के कारण हम वहां अनुपस्थित थे।मुझे कोई जानकारी नहीं है जानकारी ली जा रही है ।

वहीं बीईओ के लेखपाल धीरज कुमार ने बताया कि कुछ विवाद अवश्य हुआ है लेकिन प्रधानाध्यापक से संपर्क नहीं हो पा रहा है इस कारण मामले की सही जानकारी नहीं मिल पा रही है।

खबरें और भी हैं...