समस्तीपुर में 10 साल बाद भी नहीं बना स्कूल भवन:राशि उठाव के बाद भी निर्माण पूरा नहीं, डेढ़ से दो किलोमीटर दूर जाते हैं बच्चे

समस्तीपुर3 महीने पहले
स्कूल जाते छात्र।

समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर प्रखंड अंतर्गत कोयलाकुंड गांव के वार्ड 7 में अवस्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय मंडल टोल का 3 वर्षों से भवन निर्माण अधूरा रहने के कारण विद्यालय के बच्चे उक्त स्कूल से डेढ़ किलोमीटर दूर उत्कर्मित माध्य विद्यालय कोयलाकुंड में पढ़ने जाते हैं। लोगों की माने तो राजकीय प्राथमिक विद्यालय मंडल टोल के भवन निर्माण की राशि का उठाव होने के बावजूद आज तक इस विद्यालय के भवन निर्माण कार्य आज भी अधूरा पड़ा हुआ है। जिसके कारण विद्यालय का भवन भूत बंगला का बना हुआ है।

बता दें कि 10 साल पूर्व कोयला कुंड गांव निवासी सच्चिदानंद सिंह के पत्नी मालती देवी के द्वारा स्कूल के लिए भूमि दान दिए थे। कि हमारे गांव के बच्चे के लिए गांव में स्कूल हो और गांव में हैं पठन-पाठन करें भूमि दान देने के बाद विभागीय ओर से भवन निर्माण के लिए टैंडर जारी हुआ, जिसके बाद भवन निर्माण का कार्य स्कूल के प्रधानाध्यापक द्वारा ही कराई जा रही थी। स्कूल छत के लेवल तक तो पहुंच गया लेकिन पिछले 3 वर्षों से आज तक छत नहीं जलाई गई है, जिसके कारण आज भी भवन अर्ध निर्मित अवस्था में पड़ी हुई है। जिसके कारण इस विद्यालय के बच्चे दूसरे विद्यालय में शिफ्ट होकर पढ़ते हैं।

लोगों का बताना है कि इस स्कूल में करीब 200 बच्चे नामांकित है। लेकिन भवन निर्माण अधूरा रहने के कारण राजकीय प्राथमिक विद्यालय मंडल टोल के बच्चे डेढ़ से दो किलोमीटर दूर उत्क्रमित मध्य विद्यालय कोयला कुंड में पढ़ने जाते हैं। ग्रामीणों ने विद्यालय के भवन निर्माण के अधूरा रहने के कारन कई बार संबंध में वरीय अधिकारी से शिकायत की। परंतु अधिकारी बेखबर बैठी हुई है। जिससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश व्याप्त है।