विद्यापति राजकीय महोत्सव शुरू:शंख ध्वनि के साथ शुरू हुआ महोत्सव डमरू के डम-डम पर झूम उठे हजारों लोग

विद्यापतिनगर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विद्यापति महोत्सव में मंच पर मौजूद मंत्री, एमएलसी, विधायक व अन्य। - Dainik Bhaskar
विद्यापति महोत्सव में मंच पर मौजूद मंत्री, एमएलसी, विधायक व अन्य।

शंख व डमरू की ध्वनियों से अनुगूंजित हुआ विद्यापति राजकीय समारोह परंपरागत वाद्य यंत्रों में शामिल शंख व डमरू के ध्वनियों से विद्यापति राजकीय महोत्सव का पूरा पंडाल गूंजा, बल्कि श्रद्धालुओं के हृदय तक उसकी अनुगूंज उतरती चली गयी। युद्ध के उद्घोष व शांति के संकेत का प्रतीक रही शंख ध्वनि राजकीय महोत्सव के मंच से फूटी।

मिथिलांचल के वरिष्ठ व देश के चर्चित कलाकार डॉ. विपिन मिश्रा एवं उनके साथी कलाकारों ने सूर व ताल की ऐसी संगति की श्रोताओं के मन व मस्तिष्क में जीवंतता का चित्रण सम्प्रेषित हुआ।

विद्यापतिधाम उगना महादेव मंदिर के पा‌र्श्व स्थित विद्यापतिधाम रेलवे मैदान में आयोजित तीन दिवसीय विद्यापति राजकीय महोत्सव में वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि मिथिला के लोगों को देसिल बयना सब जन मिट्ठा का सूत्र देकर देश के विभिन्न हिस्सों में लोकभाषा की जनचेतना को जीवित करने का महान प्रयास किया।

विद्यापति महोत्सव के मंच से कला की प्रस्तुति देना ही महत्वपूर्ण है

महोत्सव में चर्चित कई कलाकार का आगमन हुआ है। उन्होंने कहा कि विद्यापति महोत्सव के मंच से कला की प्रस्तुति देना ही महत्वपूर्ण है। उन्होंने कार्यक्रम को लेकर जिला प्रशासन व कला संस्कृति युवा विभाग को धन्यवाद दिया।

विद्यापति परिषद अध्यक्ष गणेश गिरि कवि ने महाकवि विद्यापति से जुड़ी विभिन्न किवदंतियों का जीवंत चित्रण कर इतिहास बोध कराया। इससे पूर्व गणमान्य अतिथियों ने महाकवि के तैल चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें याद किया।

खबरें और भी हैं...