छपरा में दिल्ली पुलिस पर हमला:गांजा तस्कर को गिरफ्तार करने पहुंची थी, तस्करों ने पुलिस पर हमला बोल आरोपियों को छुड़ाया

छपरा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

गांजा तस्करी मामले में एक तस्कर को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली पुलिस छपरा पहुंची। जहां स्थानीय पुलिस के सहयोग से गांजा तस्कर को गिरफ्तार तो कर लिया। लेकिन पुलिस उसे साथ नहीं ले जा सकी। क्योंकि, तस्करों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर अचानक ही दिल्ली पुलिस की टीम पर हमला बोल दिया। इस दौरान कई पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। वहीं तस्करों ने ग्रामीणों की मदद से गिरफ्तार गांजा तस्कर को छुरा लिया।घटना जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, शुक्रवार की शाम दिल्ली पुलिस एवं जलालपुर पुलिस ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर गांजा तस्कर प्रिंस भारती उर्फ़ बाबू भारती को भारती टोला गांव के ब्रह्म स्थान के समीप से दबोच लिया. उसके बाद सत्यापन कराने के दौरान गांजा तस्करों की भीड़ ने गांजा तस्कर प्रिंस भारती को पुलिस के कब्जे से छुड़ा लिया। उस दौरान पुलिस के साथ तस्करों की हाथापाई भी हुई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दिल्ली के नारायणा थाने के टैगोर गार्डेन से 4 मई को 22 किलो गांजा बरामद किया गया था। उस मामले में गिरफ्तार दो अभियुक्त तारकेश्वर साह तथा राकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया था। उन दोनों की निशानदेही पर गांजा तस्करी का तार बिहार के जलालपुर तथा रसूलपुर थाने से जुड़ा पाया गया। जिसके बाद दिल्ली पुलिस की एक टीम पिछले 8 मई को ही रसूलपुर से गांजा तस्कर अवधेश यादव को गिरफ्तार किया था।

इस बयान के आधार पर सकड्डी भारती टोला गांव के प्रिंस यादव उर्फ बाबू भारती के यहां छापेमारी की गई। इधर रसूलपुर से गिरफ्तार गांजा तस्कर अवधेश यादव का शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने सामुदायिक अस्पताल जलालपुर में मेडिकल जांच भी कराया. इस दौरान गांजा तस्कर को छुराने और पुलिस बल पर हमला करने के मामले में एक नामजद तथा अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।