छपरा सदर अस्पताल में सास-बहू में भिड़ंत:घर से शुरू हुआ विवाद अस्पताल पहुंचा; मां ने कहा- बेटा भी है दुश्मन

छपरा3 महीने पहले
अस्पताल में एक-दूसरे पर आरोप लगाती सास-बहू।

परा सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में बुधवार की रात उस समय हो-हल्ला के बाद चर्चा का विषय बन गया, जब दो महिलाएं आपस में झगड़ने को तैयार हो गई और एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप के बाद प्राथमिकी करने पर अड़ गई। पूछताछ के बाद पता चला कि दोनों सास-बहू है।

दोनों सास-बहू घर में मारपीट करने के बाद छपरा सदर अस्पताल उपचार के लिए पहुंची थी। जहां उपचार के क्रम में दोनों महिलाएं फिर एक दूसरे को दोषी ठहराते हुए झगड़ने लगी। दोनों जख्मी महिलाओं का उपचार छपरा सदर अस्पताल में किया गया। जहां सास को गंभीर हालत में भर्ती किया गया है। मामला छपरा शहर के मुफस्सिल थाना अंतर्गत मरहिया गांव का है। गंभीर रूप से जख्मी सास मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मरहिया गांव निवासी स्वर्गीय परशुराम ओझा की 78 वर्षीय पत्नी बच्चा कुंवर बताई गई है।

अस्पताल में एक-दूसरे पर आरोप लगाती सास-बहू।
अस्पताल में एक-दूसरे पर आरोप लगाती सास-बहू।

वहीं उसकी बहू अजय ओझा की 45 वर्षीय पत्नी रानी देवी बताई गई है। छपरा सदर अस्पताल में दोनों महिलाओं का उपचार किया गया जहां भर्ती बच्चा कुंवर ने बताया कि उनके पति की मौत के बाद उनका बेटा अजय ओझा भी उनका दुश्मन बन बैठा है और वह भी उनके साथ मारपीट करता है। जिसको लेकर उनके द्वारा पूर्व में पुलिस को शिकायत कर बेटा और बहू के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। जिसके बाद उनका बेटा कमाने के लिए बाहर चला गया लेकिन उनकी बहु रानी बराबर उनके साथ मारपीट करती है। आज भी वह बच्चों के संग मिलकर उसे डंडे से पिटाई की तथा अपना सिर दीवार में फोड़कर केस करने के लिए आई है।