रात में पत्नी से कहा सुबह जल्दी आऊंगा, पहुंची लाश:छपरा में बस कंडक्टर की संदेहास्पद हालात में मौत, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

छपरा2 महीने पहले

सारण जिले के परसा थाना क्षेत्र निवासी बस कंडक्टर की गोपालगंज में संदेहास्पद मौत की खबर मिलते ही स्वजनों के रुदन क्रंदन से कोहराम मच गया। मृतक हरपुर परसा निवासी स्व भगवान सिंह का पुत्र महेश सिंह (52) है। स्वजनों में पुत्र रंजन व पत्नी के अनुसार महेश सिंह राखी ट्रेवल्स बस पर कुछ वर्षों से कंडक्टर का काम करते थे।

बस प्रतिदिन गोपालगंज से पटना के लिये सवारी लेकर जाती है। बीते रविवार की रात गोपालगंज पहुच महेश ने अपनी पत्नी व पुत्री से मोबाइल पर करीब 25 मिनट तक बातें भी की थी। लेकिन सुबह छः बजे अचानक फोन आया कि महेश अब दुनिया में नहीं रहे और उसका शव उसी बस से लाया जा रहा है। लेकिन बस से शव को लाने के उपरांत सोनहो में बोलेरो पर रखने व सोनहो से परसा पुलिस को सूचना देने की बात परिजनों को शक के घेरे में डाल दिया है।

इधर पुलिस सोनहो चौक पहुंच शव को कब्जे में करना चाही तै शव परिजनों से मिलाने के लिये घर पर हरपुर परसा लाने की बात पर अड़े रहे और अंततः शव को घर लाना पड़ा। जहां परिजन शव को देख दहाड़ मार रोते हत्या करने की बाते कह चिल्लाने लगे। जबकि बस स्टाफ में कुछ लोगो कहना था कि रात में खाना खाने के बाद महेश सोये तो सोये रह गये। इधर पुलिस शव को पोस्टमार्टम हेतु छपरा भेज दिया और कंडक्टर की मौत का कारण पता लगाने में जुटी है।

थानाध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का खुलासा हो पायेगा। वहीं समाचार प्रेषण तक प्राथमिकी की प्रक्रिया चल रही है। थानाध्यक्ष ने बताया कि जल्द ही मामले का खुलासा कर लिया जाएगा। इधर घटना को लेकर पत्नी पार्वती देवी, पुत्र रवि कुमार, रंजन कुमार, राजा कुमार, पुत्री लक्ष्मी कुमारी व सरस्वती कुमारी का रो रो कर हाल बेहाल है। वहीं घटना को लेकर पूरे गांव में मातम है।

खबरें और भी हैं...