5 साल के बच्चे से जबरन काम कराते थे दंपती:गांव वालों ने थाने में दी सूचना, पुलिस ने बरामद कर चाइल्डलाइन को सौंपा

छपरा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सारण जिले के दाउदपुर थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर थाना क्षेत्र के जैतपुर गांव से एक पांच वर्षीय बालक को बरामद किया है। जिसे एक दंपति ने अपने घर में रखा था और उससे जबरन काम लिया जाता था। पुलिस ने बच्चे को बरामद करने के बाद पूछताछ कर रविवार को चाइल्ड हेल्प लाइन को सौंप दिया है। वहीं उसके मां-बाप के बारे में जानकारी हासिल करने में जुट गई है। बच्चे को पुलिस ने राजू तिवारी के घर से बरामद किया है। जो करीब एक साल से उनके साथ रह रहा था। उसके शरीर पर पिटाई के भी निशान मिले हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव के कुछ लोगों ने देखा कि बच्चे को यातनाएं देकर उसे काम कराया जा रहा है। उसके बाद उनसे रहा नही गया और दाउदपुर थानाध्यक्ष बीरेंद्र राम को इसकी सूचना दे दी। जिसके बाद पुलिस ने पहुंच कर जांच-पड़ताल की और दम्पति से पूछताछ की तो गोल-मटोल जवाब मिला। पुलिस को लोगों की शिकायत सही लगी। उसके बाद पुलिस उसे अपने साथ थाने लायी। फिलहाल पुलिस दम्पति के पास यह बालक कैसे और कहां से आया इसकी छानबीन कर रही है। बालक अपना नाम राज कुमार उर्फ खेसारी पिता अजित सिंह दादा पाठक बाबा ग्राम गायघाट थाना हल्दी बता रहा है।

गुमशुदा प्रतीत हो रहा है बच्चा
दाउदपुर थानाध्यक्ष बीरेंद्र राम ने बताया कि बालक स्वस्थ्य है। मामला गुमशुदगी का प्रतीत हो रहा है। गुमशुदे बच्चे को दम्पति के द्वारा छिपाकर रख लेने का मामला लगता है। बालक के असली माता-पिता की तलाश तक चाइल्ड हेल्प लाइन छपरा को भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...