छपरा में पकड़ाया सोना लूटने वाला गिरोह:पहले झांसे में लेकर करते थे खरीद-बिक्री, बड़ी डील में गिरोह के सदस्य पुलिस बन करते थे रेड

छपराएक महीने पहले

छपरा में एक अनोखे तरीके से स्वर्ण व्यवसायियो से लूट के घटना को अंजाम देने वाले गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। गिरोह का मुख्य सरगना पड़ोसी जिला गोपालगंज का रहने वाला है। जो स्वर्ण कारोबारियों को झांसे में रखकर सुनियोजित तरीके से घटना को अंजाम देता था।गिरोह के सरगना का पहचान गोपालगंज जिला के महम्मदपुर थाना क्षेत्र पनडुब्बी महारानी निवासी आशा ठाकुर पिता छबीला ठाकुर के रूप में हुई है। जो जिला सहित पूरे बिहार मे सुनियोजित तरीके से लूट के घटना को अंजाम देता था। खुद को स्वर्ण व्यवसायी बता अन्य स्वर्ण कारोबारी को अपने झांसे में लेकर छोटे डील के बाद बड़े रकम के लेनदेन वक्त गिरोह के अन्य सदस्यों को क्राइम ब्रांच पुलिसकर्मी बनाकर छापेमारी कर सारे रुपये और सोना लेकर फरार हो जाता था।

पंजाब के स्वर्ण व्यवसायियों के साथ गिरफ्तार हुए मास्टरमाइंड

पूरे प्रकरण का खुलासा पंजाब के करोबारी के साथ लूट के बाद हुआ। मिली जानकारी के अनुसार पंजाब से आये कारोबारियों के साथ डील की बात हुई जिसके बाद नगद भुगतान करने को कह सरगना आशा ठाकुर द्वारा व्यवसायियो को मशरख के बंगरा गावं लाया गया । पंजाबी कारीबरियो द्वारा पैसा दिए जाने के वक्त आधा दर्जन नकली क्राइम ब्रांच के अधिकारियों द्वारा छापेमारी कर रुपये और सोना जप्त कर लिए गए । छापामारी करने वाले व्यक्तियों द्वारा थाना में चलने के बात को कह एनएच पर छोड़ दिया गया। जिसके बाद पीड़ित व्यपारियो ने नजदीक में मिले गस्ती दल के पुलिसकर्मियों को सारा घटनाक्रम बताया बताया । जिसमें त्वरित कार्यवाई करते हुए मुख्य सरगना की गिरफ्तारी की गई है। बाकी अन्य साथी फरार हो गए जिनको पुलिस गिरफ्तार वयक्ति के निशानदेही पर तलाश रही है।

गिरोह ने जिले सहित पूरे राज्य में करोड़ों रुपये के सोना और रुपए के लूट को अंजाम दिया है। मुख्य सरगना के गिरफ्तारी के बाद मशरख थाना में अन्य शिकार हुए व्यवासियो का आना शुरू हो गया। इस गिरोह ने सारण जिला सहित पूरे बिहार में। इस तरह के घटना को अंजाम दिया है। वही उसके दिमागी लूट का शिकार बने सिवान जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र के चकिया शंकरपुर गांव निवासी पिंटू सिंह पिता रघुनाथ साह ने बताया कि उनकी बाबा बाजार पर पिंटू ज्वेलर्स की दुकान है उसे भी सोने के गहने देने के नाम पर 8 लाख रुपए की लूट कर ली गई है। वही डोरीगंज थाना क्षेत्र के सिंगही गांव निवासी मुकेश यादव पिता रामजी राय और रंजन यादव पिता व्यास राय से भी सोने की बिक्री के बहाने 35 लाख 70 हजार रुपए की लूट कर ली गई। मामले में मुकेश यादव ने बताया कि सरगना आशा ठाकुर इसी तरह कितने लोगों से करोड़ों रुपए लूट की घटना को अंजाम दिया हैं।

खबरें और भी हैं...