छपरा में गंगा में डूबे किशोर का शव बरामद:जलाभिषेक के लिए गंगा से पानी लेने के दौरान डूबा, 3 किमी की दूरी से शव को निकाला गया

छपरा2 महीने पहले

छपरा के दिघवारा से युवक का शव गंगा नदी से बरामद हुआ है।पिछले 40 घंटे के बाद गंगा नदी से डुबा हुआ युवक का शव दिघवारा के मलखाचक गांधी कुटीर के निकट पानी से बाहर निकला गया। मृतक भेल्दी थाना क्षेत्र के कोरेया गांव निवासी रामाधार भगत का 18 वर्षीय पुत्र चमचम कुमार बताया जाता है।

वह अंतिम सोमवारी को मढौरा के सिलौहरी स्थित भोले बाबा पर जलाभिषेक के लिए रविवार की संध्या अंबिका स्थान आमी गंगा नदी से जल लेने सैकङो की संख्या में लोगों के साथ आया था। जहां स्नान करने के दौरान नदी के गहरे पानी में चला गया और डूब गया।काफी खोज बीन किया गया मगर शव नहीं मिल सका था। मंगलवार को दिघवारा थाना क्षेत्र के मलखाचक गांधी कुटीर के गंगा नदी के निकट पानी में तैर रहा था। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम में भेज दिया।

मृत युवक रविवार को शिल्हौरी स्थित शिलानाथ मंदिर में जल चढ़ाने के लिए दिघवारा क्षेत्र के आमी स्थित गंगा तट पर गंगाजल लाने गया था। जहां स्नान करने के दौरान ही वह डूब गया था। युवक के साथ गए गांव के लोगों ने डूबने की सूचना स्थानीय प्रशासन व उसके परिजनों के दी।

रविवार से ही भेल्दी थाने के कोरेया गांव निवासी रामाधार भगत के पुत्र चमचम कुमार के शव की खोजबीन जारी थी। काफी खोजबीन के बाद मंगलवार को युवक का शव गंगा नदी से बरामद किया गया। शव कोरेया गांव में पहुचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक के पिता रामाधार भगत कोरेया पंचायत में वार्ड सदस्य हैं। उनका रो-रो कर बुरा हाल था।