छपरा का अनोखा बैंक:सोनपुर के सेंट्रल बैंक में सिर्फ दो कर्मचारी तैनात, हजारों खाताधारकों को हर दिन होती परेशानी

छपरा3 महीने पहले
बैंक में अत्यधिक खाता होने के चलते खताधारकों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ता है।

एक तरफ सरकार बैंकिंग प्रणाली को मजबूत करते हुए काम समय मे बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने की बात करती है। लेकिन दूसरे तरफ धरातल पर कुछ और ही नजर आता है। इस बात का जीता जागता उदाहरण छपरा के सोनपुर स्थित सेंट्रल बैंक गोला बाजार का शाखा है। यहां सिर्फ दो कर्मचारियों के भरोसे पूरे बैंक का संचालन होता है। बैंक में अत्यधिक खाता होने के चलते खताधारकों को खासा परेशानी का सामना करना पड़ता है। सुदूर ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले खताधारको को बैरंग लौटना पड़ता है।

आसपास के सैकड़ों गांव के लोग होते है प्रभावित

सेंट्रल बैंक में कर्मचारियों की कमी के चलते आसपास के सैकड़ों गांव के उपभोक्ता प्रभावित होते हैं। गर्मी के दिन में सुदूर इलाके से आ रहे ग्रामीणों बिना काम कराए ही वापस बैरंग लौट जाने को मजबूर है। पिछले कई महीनों से पासबुक प्रिंटिंग नही होने के चलते योजना संबंधित खाताधारकों को परेशान होना पड़ रहा है। एक कर्मचारी द्वारा पैसा जमा और निकासी करने के कारण काउंटर पर लंबा लंबा लाइन लगता है। पूरे दिन काम करने पर भी कुछ उपभोक्ता छूट जाते हैं।

प्रबंधक ने बताया कि बैंक में कर्मचारियों के कमी के कारण विगत कई महीनों से बैंक के कार्यों में बाधा उत्पन्न हो रही है।
प्रबंधक ने बताया कि बैंक में कर्मचारियों के कमी के कारण विगत कई महीनों से बैंक के कार्यों में बाधा उत्पन्न हो रही है।

प्रबंधक ने बताया कि बैंक में कर्मचारियों के कमी के कारण विगत कई महीनों से बैंक के कार्यों में बाधा उत्पन्न हो रही है। जिससे उपभोक्ताओं को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।हमने इस संबंध में ऊपर के अधिकारियों की जानकारी देते हुए कर्मी की बैंक में तैनात करने की मांग किये है। लेकिन अभी तक कोई विशेष पहल नहीं हुआ है। जिसके कारण से उपभोक्ता विभिन्न कार्यों से बैंक से वापस ले लौट जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...