छपरा में मुखिया संघ के अध्यक्ष के लिए दांव-पेंच:इसुआपुर में मुखिया संघ अध्यक्ष के चुनाव को लेकर अनोखा माजरा, 12 घंटे में तीन बार बदले गए अध्यक्ष

छपरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
छपरा में मुखिया संघ के अध्यक्ष के लिए दांव-पेंच। - Dainik Bhaskar
छपरा में मुखिया संघ के अध्यक्ष के लिए दांव-पेंच।

राजनीति संभावना का खेल है राजनीतिक दाव पेंच में कुछ भी असंभव नही होता है छपरा के इसुआपुर मुखिया संघ के किचुनाव में इसका बानगी देखने को मिला है। जहाँ प्रत्येक चार घण्टे पर तीन बार अलग अलग बैठक कर मुखिया संघ के अध्यक्ष का चुनाव हुआ है। एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत मात्र 4 घंटे के लिए अजय राय मुखिया संघ के अध्यक्ष बने जैसे ही इसकी सूचना पूर्व अध्यक्ष बीना देवी के पति मिथिलेश राय को मिली उन्होंने सारे मुखियाओं को इसुआपुर में एकत्रित कर पुनः अपने प्रति समर्थन जुटा लिया.फिर शाम 8 बजे से दोबारा अजय राय कुछ अन्य मुखिया संघ के साथ बैठक कर आपने पक्ष में समर्थ जुटा लिए।

नाटकीय घटनाक्रम में मीटिंग के दौरान मुखिया संघ के अध्यक्ष बनने का आरोप

खुद को मुखिया संघ का अध्यक्ष बताने वाले वीणा देवी के पति मिथलेश राय ने बताया की अजय राय के तरफ से किसी दूसरे मीटिंग के लिए बुलाया गया था. लेकिन वहां जाने के बाद उन्होंने अध्यक्ष बनाने के लिए दबाव डाला .उनका कहना था की मिथिलेश राय की पत्नी वीणा देवी को हटाकर मुझे अध्यक्ष बनाओ .उन्होंने इसके पूर्व ही रजिस्टर पर हम लोगों का दस्तख़त ले लिया था तथा फोटो खिंचवा लिया था. जब तक हम लोग समझ पाते तब तक वह अपने आप को अध्यक्ष घोषित कर चुके थे .इसकी जानकारी जब मिथिलेश राय को मिली तो हम लोग उनके समर्थन में इसुआपुर में उपस्थित हुए तथा कुछ ही घंटों बाद पुनः वीणा देवी को अध्यक्ष का ताज पहना दिया गया .

मुखिया संघ के अध्यक्ष के कार्य से छुब्ध लोगों ने चुना नया अध्यक्ष

इस मामले में मुखिया अजय राय ने बताया कि प्रखंड के मुखिया निवर्तमान मुखिया संघ के अध्यक्ष वीणा देवी के कार्यशैली से क्षुब्ध थे।जिसके बाद मुझे अध्यक्ष बनाया गया। मेरे पर 13 में से सात मुखिया का लिखित समर्थन है।

खबरें और भी हैं...