एंबुलेंस छोड़ गुटखा खाने गया चालक, परिजन चलाकर पहुंचे अस्पताल:सारण के तरैया में सामने आया मामला, चालक ने किया एंबुलेंस चोरी का केस

छपरा2 महीने पहले
हंगामा करते दोनों पक्षों के लोग।

सारण जिले के तरैया थाना क्षेत्र के पचभिंडा पेट्रोल पंप के समीप एंबुलेंस खड़ी कर चालक गुटखा खाने चला गया। आने में देर हुई तो घायल युवक का परिजन अपना धैर्य खो दिए और घायल का एक परिजन खुद ही ड्राइंव कर उपचार के लिए रोगी को लेकर चल दिया। तबतक रेफरल अस्पताल का एंबुलेंस चालक मंसूर आलम एंबुलेंस चोरी का शिकायत लेकर तरैया थाने में पहुंच गया। एंबुलेंस चालक और रोगी के परिजन के इस हाई प्रोफाइल ड्रामा में तरैया पुलिस 24 घंटे से परेशान है।

चालक की सूचना पर छपरा में पुलिस ने एंबुलेंस को पकड़ लिया है। ज्ञात हो कि शनिवार को पचरौर के देईश्वर पंडित के 18 वर्षीय पुत्र राजु कुमार का एक्सीडेंट शाहनेवाजपुर में हुआ था। जिसे एंबुलेंस से छपरा ले लाया जा रहा था। तभी घटना हुई है।

क्या हैं दोनों पक्षों के आरोप
एंबुलेंस चालक का कहना है कि वह रोगी को रेफरल अस्पताल से लेकर छपरा जा रहा था। रास्ते में ही पचभिंडा रोगी का घर था। तो रोगी के परिजन बोले गाड़ी सड़क किनारे खड़ा करिए थोड़ा घर से चादर और तकिया ले लेते है। जब गाड़ी रोका तो काफी भीड़ हो गया तो रोगी का एक परिजन बोला की काफी भीड़ हो गई है। थोड़ा चाबी दीजिए एंबुलेंस आगे बढ़ा देते है। चाबी देते ही परिजन एंबुलेंस लेकर फरार हो गया। जिसका मिर्जापुर तक बाईक से पीछा किया लेकिन नही रूका। तब थाने में एंबुलेंस चोरी का शिकायत किए है।

इधर रोगी के परिजनो ने बताया कि चालक हमारे घर के समीप पेट्रोल पंप पर गाड़ी लगाकर तेल लेकर गुटखा खाने चला गया। देर तक नही आया तो हमलोगों ने देखा रोगी का हालत गंभीर है। तो रोगी का जान बचाने के लिए खुद एंबुलेंस ड्राइव कर छपरा चल दिए है।

खबरें और भी हैं...