छपरा में पकड़ाई 2.5 लाख की शराब:इनोवा में तहखाना बनाकर छीपा रखा था खेप; मांग के हिसाब से हो रही थी तस्करी

छपरा22 दिन पहले
छपरा में पकड़ाया 2.5 लाख का शराब

बिहार में शराबबंदी के बाद शराब तस्कर और मद्य निषेध पुलिस के बिच आंख मिचौली का खेल चल रहा है। शराब तस्कर तस्करी के लिए अनोखे अंदाज में पेश आ रहे है। ताजा मामला छपरा के सोनहो से सामने आया है जहाँ इनोवा में विशेष तहखाना बना शराब की तस्करी का खुलासा हुआ है।

तस्करी के लिए ले जायजा रहे 147 लीटर शराब को मद्य निषेध के कर्मचारियों द्वारा जप्त किया गया है। जिसका बाजार मूल्य 2.5 लाख रुपये बताया जा रहा है। वाहन के साथ तस्कर भी गिरफ्तार किया गया है जिसका पहचान नालंदा जिला के नूरसराय थाना क्षेत्र के मुर्गियाचक निवासी मनीष कुमार पिता गोपाल राय के रूप में हुआ है। जो पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश से शराब लेकर अलग अलग जगहों पर डिलेवरी देने के लिए जा रहा था। तभी उत्पाद बिभाग के हत्थे चढ़ गया।

सोनपुर से नालंदा तक कई जगहों पर देता था डिलिवरी

तस्करी के बारे में जानकरी देते हुए तस्कर मनीष कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश से शराब का खेप लेने के बाद सोनपुर से नालंदा तक कई जगहों पर डिलेवरी की जाती है। पहले से तय लाइन होटल और अन्य जगहों पर मांग के हिसाब से शराब की डिलिवरी की जाती है। दिल्ली नंबर के इनोवा में नीचे विशेष तहखाना बना कर टेट्रा पैक शराब खोलकर रखा गया था। चिन्हित जगहों पर जरूरत के हिसाब से टेट्रा पैक का उपलब्ध कराया जाता है। फ़िलहाल पुलिस शराब तस्कर के निशानदेही पर डिलेवरी पॉइंट के होटलों में छापेमारी की तैयारी कर रही है।

खबरें और भी हैं...