कवि सम्मेलन:कवि सम्मेलन में व्यवस्था पर खूब चले तीखे बाण

शेखपुरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सम्मेलन में शामिल कवि गण - Dainik Bhaskar
सम्मेलन में शामिल कवि गण
  • स्कूल महतो जी के दलान हो रहल, खिचड़ी खा खा बुतरु जवान हो रहल...

जिले के बरबीघा नगर परिषद अंतर्गत श्री नवजीवन अशोक पुस्तकालय में आजादी के अमृत महोत्सव पर कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। सोमवार की रात्रि में आजादी के अमृत महोत्सव पर आयोजित कवि सम्मेलन हुआ देर रात तक चला। इस कवि सम्मेलन में कवियों ने अपनी प्रस्तुति से लोगों को लोट-पोट कर दिया। हास्य रस और वीर रस की कविताओं के साथ-साथ शृंगार रस की कविताओं का भी पाठ किया गया। जिस पर श्रोताओं ने जमकर तालियां बजाई।

इस हास्य कवि सम्मेलन में व्यवस्था पर भी तीखे व्यंग बाण चलाए गए एवं सामाजिक कुरीतियों पर भी प्रहार किया गया। आजादी के अमृत महोत्सव पर आयोजित इस समारोह की अध्यक्षता समाजवादी नेता शिव कुमार ने किया की। मंच संचालन सारे उच्च विद्यालय के प्राचार्य डॉ.अजय कुमार झा ने किया। इस कवि सम्मेलन में मगही के प्रख्यात कवि जयराम देवसपूरी और नरेंद्र सिंह नेपूरी ने अपनी कविताओं से श्रोताओं हंसाया भी और कभी-कभी सोचने पर भी विवश कर दिया। हास्य कवि जयराम देवासीपुरी ने अपनी कविता के माध्यम से जहां श्रोताओं को खूब हंसाया वहीं सामाजिक कुरीतियों के साथ-साथ देश की व्यवस्था पर भी जमकर प्रहार किया।

चाइना के डोकलाम विवाद पर रचित कविता का भी किया गया पाठ

कवि जयराम जी ने स्कूल की व्यवस्था पर तंज कसते हुए अब तो इस स्कूल महतो जी के दलान हो रहल, खिचड़ी खा खा बुतरु जवान हो रहल, कविता का पाठ किया। कवि नरेंद्र सिंह के द्वारा मैट्रिक पास बना संत्री, माफिया जा बनो मंत्री कविता का पाठ किया गया। अरुण साथी के द्वारा हां मैं लोकतंत्र हूं कविता के माध्यम से व्यवस्था पर तीखे तंज किए गए। कवि सम्मेलन में आजादी के अमृत महोत्सव पर बरबीघा के कवि डॉ.विजय राम रतन के द्वारा भी अपनी कविता का पाठ किया गया, जिसमें आजादी के आंदोलन में सेनानियों के योगदान को रेखांकित किया गया। आजादी के अमृत महोत्सव पर आयोजित इस कवि सम्मेलन में पत्रकार एवं कवि अरुण साथी के द्वारा भी अपनी कविता प्रस्तुत की गई। डॉ.अजय कुमार झा ने भी भारत और चाइना के डोकलाम विवाद पर रचित कविता का पाठ किया। इस कवि सम्मेलन में पूर्व प्राचार्य डॉ.शिव भगवान गुप्ता, पुस्तकालय के अध्यक्ष विजय बरनवाल, नगर के पूर्व वार्ड पार्षद अरुण कुमार, सामाजिक कार्यकर्ता पंकज कुमार, मुन्ना कुमार, चंदन कुमार, आलोक कुमार इत्यादि की भागीदारी रही।

खबरें और भी हैं...