शेखपुरा में तीन दिनों पूर्व बरामद शव की हुई पहचान:पुलिस ने किया खुलासा, अवैध संबंध को लेकर हत्या की जताई जा रही आशंका

शेखपुरा2 महीने पहले
शेखपुरा में तीन दिनों पूर्व बरामद शव की हुई पहचान

शेखपुरा में तीन दिन पहले यानि 13 अगस्त के दिन पुलिस को लावारिस अवस्था में गब्बे गांव के खंधा में सड़क किनारे एक 45 वर्षीय महिला की लाश थी। पुलिस ने इस मृतक महिला की पहचान करने के साथ साथ मामले का खुलासा भी करने में काफी हद तक सफल हुई।

बता दें कि महिला के सिर में गोली मारकर उसकी हत्या कर लाश को गब्बे - खलासपुर पथ के किनारे फेंक दिया गया था। हथियावा ओपी पुलिस ने घटना स्थल से एक कारतूस का खोखा भी बरामद की थी। इस बाबत ओपी अध्यक्ष सह पुलिस अवर निरीक्षक भगवान प्रसाद ने बताया कि मृतका गब्बे गांव निवासी रंजीत पांडेय की पत्नी शीला देवी उर्फ चंद्रकला देवी बताई गई है। जिसका प्रेम प्रसंग गांव के एक व्यक्ति सुधीर सिंह के साथ लगभग 15 वर्षों से चल रहा था ।

मृतका अपने प्रेमी के साथ हरियाणा में ही रहा करती थी। जबकि महिला को दो पुत्र भी है। जिसमे छोटा पुत्र धनबाद में रहकर पढ़ाई कर रहा है।वहीं मृतका के पति सहित परिवार वाले कई वर्षों से गांव छोड़कर बाहर दिल्ली में रह रहे हैं। ओपी अध्यक्ष ने बताया कि महिला गत 10 अगस्त को अपने भाई को राखी बांधने मेहूस थाना क्षेत्र के ओरैया गांव जाने हेतु निकली थी। इसी दौरान वह पटना जिला के बख्तियारपुर में एक रात रुकी और वहां गंगा स्नान की थी।

मृतका के भाई जनार्दन पांडेय ने पुलिस को बताया कि 12 अगस्त की रात्रि 11 बजे तक उन्हें उनकी बहन से मोबाइल पर बात हुई थी। उसके बाद बहन का मोबाइल बंद हो गया। पुलिस ने आशंका जताई कि महिला की हत्या उक्त रात्रि को लगभग 12 बजे अपराधियों द्वारा की गई होगी। पुलिस ने कहा कि इस हत्या के पूछे शक की सुई मृतका के प्रेमी की ओर जा रही है।उन्होंने कहा कि बहुत जल्द इस मामले में शामिल अपराधी गण पुलिस गिरफ्त में आने वाले हैं।

खबरें और भी हैं...