मालगाड़ी की चपेट में आने से होमियोपैथ प्रैक्टिसनर की मौत:दवा लाने पटना जाने के लिए घर से निकले थे प्रैक्टिसनर, ट्रेन की चपेट में आ गए

शेखपुरा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शेखपुरा जिले के बरबीघा प्रखंड के जयरामपुर थाना क्षेत्र में पड़ने वाले तेउस गांव निवासी होमियोपैथ प्रैक्टिसनर 68 वर्षीय सुधीर प्रसाद सिंह की मौत रेल की चपेट में आने से हो गई। वे तेउस पंचायत के पूर्व उप मुखिया सुरेंद्र प्रसाद सिंह के चाचा थे। वे निकटवर्ती नालंदा जिला मुख्यालय स्थित बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन से पटना जाने के लिए ट्रेन पकड़ने गए थे। तभी बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन के समीप मालगाड़ी के चपेट में आ गए। जिसके कारण उनकी मौत घटना स्थल पर ही ट्रेन से कट कर हो गई। यह घटना शनिवार को घटी।

सूत्रों ने बताया कि वे अपने घर में दवा लाने हेतु पटना जाने की बात कहकर निकले थे।रेल पुलिस के द्वारा सूचना देने पर परिवार को इसकी जानकारी मिली। तब परिवार के लोग बिहार शरीफ पहुंचे। मृतक की लाश को जब्त कर रेल पुलिस ने पोस्टमार्टम हेतु भेज दी और बाद में लाश को परिजनों के हवाले कर दी।इस घटना के बाद पूरे गांव में मातम सा दृश्य छा गया है। घर वालों का रोते रोते बुरा हाल हो गया है। घटना की खबर गांव वालों को मिलने के बाद लोग उनके गांव स्थित घर के समीप घटना के कारणों को जानने के उद्देश्य से जमा हो गए। बिहार शरीफ से उनके पार्थिव क्षत विक्षत शव को दाह संस्कार हेतु गांव लाया जा रहा है।