बढ़ती गर्मी को देखते हुए जिला प्रशासन अलर्ट:1603 चापाकल की मरम्मती का किया दावा, खराब चापाकल की सूचना के लिए बना कंट्रोल रूम

सीतामढ़ी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरकारी चापाकल के बंद होने अथवा पेयजल की समस्या सूचना के लिए जिला प्रशासन ने कंट्रोल रूम स्थापित किया है। - Dainik Bhaskar
सरकारी चापाकल के बंद होने अथवा पेयजल की समस्या सूचना के लिए जिला प्रशासन ने कंट्रोल रूम स्थापित किया है।

सीतामढ़ी जिले में भीषण गर्मी और अखबारों में छपी खबर के बाद जिला प्रशासन में सरकारी स्कूलों व अन्य सार्वजनिक जगहों के खराब चापाकल की मरम्मत को लेकर गंभीरता दिख रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में उत्पन्न पेयजल समस्या के त्वरित निष्पादन एवं चापाकलों को तत्काल मरम्मती कर चालू करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा चलंत मरम्मती दल का गठन किया गया है। जिला प्रशासन सूखे हुए चापाकल के मरम्मत कार्य में जुट गई है। जिले के 1603 चापाकल को दुरुस्त कराने का प्रशासन ने दावा किया है।

डीएम मनीष कुमार मीणा के आदेश पर सभी प्रखंडों में पेयजल समस्या से निजात दिलाने हेतु चलंत मरम्मत ईदल लगाए गए हैं उनके द्वारा प्रतिदिन 20 से 30 चप्पलों की मरम्मत भी कराई जा रही है। अब तक कुल 1603 चापाकल की मरम्मती कराकर चालू कराया जा चुका है। किसी भी सरकारी चापाकल के बंद होने अथवा पेयजल की समस्या सूचना के लिए जिला प्रशासन ने कंट्रोल रूम स्थापित किया है। उसके मुताबिक पीएचडी कंट्रोल रूम को 06526 25 अट्ठारह अट्ठारह पर सुबह 10:00 से शाम 5:00 बजे तक फोन कर सूचना दी जा सकती है। पेयजल से संबंधित किसी प्रकार की समस्या होने पर विभाग के कंट्रोल रूम अथवा टोल फ्री नंबर 18001 231121 पर फोन कर जानकारी दी जा सकती है।

खबरें और भी हैं...