सीतामढ़ी में अस्पताल में महिला की मौत के बाद बवाल:आक्रोशित परिजनों ने डॉक्टर पर हत्या का लगाया आरोप, पुलिस से डॉक्टर को गिरफ्तार करने की मांग की

सीतामढ़ी7 महीने पहले

सीतामढ़ी में एक निजी क्लीनिक के डॉक्टर के द्वारा गलत ऑपरेशन के बाद महिला की मौत हो गई है। घटना के बाद परिजन व मृतक के स्वजन आक्रोश में है। डॉक्टर के खिलाफ सभी आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं। परिजनों ने गलत ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर पर हत्या का आरोप लगाया है। बता दें कि इससे पूर्व में भी बीते 27 जून को परिजनों के द्वारा डॉक्टर के क्लीनिक पर हंगामा किया गया था।

मिली जानकारी के अनुसार जिले के रीगा थाना क्षेत्र के भोरहा टोले के निवासी मुस्तकीम अंसारी ने बताया कि वह अपनी पत्नी हसीना खातून को शहर के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉक्टर एम ठाकुर के क्लीनिक में दिखाने के लिए 5 मई को गया था। जहां डॉक्टर के द्वारा बताया गया कि मरीज के पेट में पथरी है। इसे ऑपरेशन कर निकालना पड़ेगा। जिसके बाद परिजनों के द्वारा ऑपरेशन के लिए राजी होकर उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

परिजनों ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर ऑपरेशन कर पथरी निकालने के जगह मांस काटकर निकाल दिया। जिससे वह कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से ग्रसित हो गई है। परिजनों ने बताया कि ऑपरेशन के बाद से ही उसे पेट में बहुत दर्द होता था। जिसके बाद दूसरे अस्पताल में दिखाया, जहां डॉक्टर के द्वारा पटना महावीर कैंसर संस्थान में रेफर कर दिया गया।

महावीर कैंसर संस्थान में इलाज के दौरान डॉक्टरों के द्वारा बताया गया कि मरीज नहीं बच सकती है, यह कैंसर के लास्ट स्टेज में है। इस बात की जानकारी होने के बाद परिजन अपने समर्थकों के साथ शहर के चिकित्सक डॉ एम ठाकुर के क्लीनिक पर पहुंचकर हंगामा और प्रदर्शन किया। वही स्थानीय पुलिस के समझाने बुझाने के बाद आक्रोश को शांत किया। वही आवेदन देकर डॉक्टर के खिलाफ कारवाई की बात कही। बता दें कि गुरुवार के देर रात मौत हो जाने के बाद से परिजन आक्रोश में है। और डॉक्टर के क्लीनिक पर पहुंचे है। मृतक के स्वजन पुलिस से डॉक्टर को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे है।