सीतामढ़ी में प्रसव के दौरान बच्चे की मौत:स्वास्थ्य कर्मी और परिजन के बीच चला ड्रामा, बिना अनुमति के कर दिया था ऑपरेशन

सीतामढ़ी2 महीने पहले
सीतामढ़ी में प्रसव के दौरान बच्चे की मौत

सीतामढ़ी में गुरुवार को एक निजी अस्पताल के कर्मियों की लापरवाही से प्रसव के दौरान बच्चे की मौत हो गई। घटना के बाद उक्त अस्पताल में हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला। परिजन आक्रोशित होकर जमकर हंगामा किया। अस्पताल कर्मी के खिलाफ हल्ला मचाया। परिजनों का आरोप है की प्रसूति महिला को बिना परिजनों के अनुमति के ऑपरेशन किया गया। जिसके कारण बच्चे की मौत हुई है।

अस्पताल संचालक इस पूरे मामले में कुछ भी बोलने से साफ तौर पर इंकार कर दिया है। इसके बाद अस्पताल पर लगे बोर्ड पर लिखे गए डॉक्टर से बात की गई। डॉक्टर ने भी साफ तौर पर उक्त हॉस्पिटल के डॉक्टर होने से ही इंकार कर दिया। उन्होंने कहा की मैं किसी निजी अस्पताल का डॉक्टर नहीं हूं।

प्रसूति महिला के पति भवदेपुर निवासी रौशन प्रसाद गुप्ता ने कहा की आज सुबह प्रसव पीड़ा होने पर अपनी पत्नी प्रियंका प्रसाद को सदर अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां एक नर्स के द्वारा कहा गया की आज डिलेवरी नहीं होगा। वही दूसरे एक नर्स ने उसे निजी अस्पताल में ले जाने की सलाह दी। खुद उस हॉस्पिटल में उसे ले जाकर भर्ती कराया। परिजनों को कहा की नॉर्मल डिलीवरी कराया जायेगा। इस दौरान निजी अस्पताल में उसे भर्ती करने बाद काफी दवा, सुई चलाया गया। फिर बिना पूछे उसका ऑपरेशन कर दिया और कहा की बच्चा मरा हुआ है। जिसके बाद अस्पताल कर्मी और उक्त नर्स के बीच काफी कहा सुनी हुई।

हालांकि इस संबंध में अबतक थाने में मामला दर्ज नही किया गया है। वही सिविल सर्जन डॉ एससी लाल ने कहा की मामले की जांचकर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...