बेटी से छेड़खानी का विरोध किया....तो पिता-पुत्र को मार डाला:सीतामढ़ी में घर में घुसकर मारा चाकू; बचाने आई लड़की भी घायल

सीतामढ़ी2 महीने पहले
घटना के बाद रोते-बिलखते परिजन।

सीतामढ़ी में घर में घुसकर पिता-पुत्र की हत्या कर दी गई। इस वारदात में मृतक की बेटी पर भी हमला हुआ है। अपराधियों ने चाकू गोद कर पिता-पुत्र को मार डाला। बताया जाता है कि मृतक की बेटी को आरोपी कोचिंग आते-जाते तंग करता था, जिसकी शिकायत उसके परिवार से की गई थी। जिसके बाद से वो गुस्से में था और उसने घर में घुसकर डबल मर्डर को अंजाम दिया।

पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय दीजिए।

वारदात रीगा थाना इलाके के पिपरा गांव में गुरुवार देर रात हुई है। मृतक की पहचान 55 साल के आसनारायण दास और उनके बेटे 16 साल के शिवम कुमार के रूप में हुई है। वहीं लड़की की पीठ पर चाकू से हमला किया गया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन में जुट गई। पुलिस ने इस मामले 7 लोगों पर FIR दर्ज की है। इसमें से 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

घर में सो रहे थे सभी, तभी किया हमला

गुरुवार की देर रात पास के ही नागेंद्र दास के बेटे उदय दास ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। आसनारायण दास रात में घर में सो रहे थे, तभी आरोपी ने चाकू से हमला किया। उन्हें बचाने गए बेटे को भी चाकू गोद दिया। जिससे दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वही आवाज सुनकर निकली बेटी की पीठ पर चाकू घोंप दिया गया।

कोचिंग से आने-जाने पर छेड़ता था

इस हमले में जख्मी हुई लड़की ने बताया कि उदय अक्सर कोचिंग जाने वक्त रास्ते में परेशान करता था। इसके बाद मेरे परिजनों ने उदय के परिजनों से इसकी शिकायत की थी। जिसे लेकर वो गुस्से में था। मौके की तलाश में लगे उदय ने गुरुवार की रात दोनों की हत्या कर दी।

झंडा को लेकर भी हुआ था विवाद

परिजनों का कहना है कि दोनों पिता-पुत्र झंडा बनाने का काम करते थे। महावीरी झंडा के दौरान उदय और शिवम के साथ बकरे को लेकर विवाद हुआ। उसी दिन से उदय खफा चल रहा था।

वारदात के बाद रोते-बिलखते परिजन।
वारदात के बाद रोते-बिलखते परिजन।

5 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

घटना की सूचना पर रीगा थाना पुलिस घटनास्थल पहुंची और शव की पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने इस मामले 7 लोगों पर FIR दर्ज की है। इसमें से 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

डबल मर्डर से इलाके में दहशत का माहौल है। मृतक की आसनारायण की पत्नी गीता देवी और मां सुनैना देवी, बेटी तनु कुमारी, बहु सीमा कुमारी घर पर ही थे। ये सभी निकले तब तक सभी फरार थे। वही बड़ा बेटा रणधीर बाहर रहकर नौकरी करता है। घटना के बाद से परिजनों का रो- रोकर बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं...