सख्ती:नल-जल योजना बंद रहने पर बीडीओ को होगा शोकॉज,मुखिया पर प्राथमिकी

सीवान10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समाहरणालय में आयोजित बैठक में निर्देश देते डीएम। - Dainik Bhaskar
समाहरणालय में आयोजित बैठक में निर्देश देते डीएम।
  • समाहरणालय सभागार में डीएम ने अधिकारियों के साथ की बैठक, योजनाओं की समीक्षा

समाहरणालय में जिलाधिकारी अमित कुमार पांडेय की अध्यक्षता में हुई बैठक में लोक कल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की। चार सप्ताह में निरीक्षी पदाधिकारियों द्वारा जिले में निरीक्षण के बाद दी गयी रिपोर्ट पर चर्चा की। डीएम ने जिला पंचायत राज पदाधिकारी को निर्देश दिया कि जिन पंचायतों और वार्डों में नल-जल की योजना में सेवा नहीं दी जा रही है उन योजनाओं की समीक्षा कर बीडीओ से कारण पृच्छा करें तथा संबंधित वार्ड सदस्य एवं मुखिया पर विधि सम्मत कार्रवाई करें। अनुरक्षण के लिए चयनित 67 एजेन्सियों की बैठक कर जहां मरम्मत आदि की आवश्यकता है वहां अविलंब मरम्मत कार्य सम्पन्न कर सेवा चालू कराया जाए। प्रखंडों में नल-जल योजना के संचालकों की सूची प्राप्त करने का भी निर्देश दिया गया। मौके पर उप विकास आयुक्त दीपक सिंह, डीआरडीए निदेशक मृत्युंजय कुमार, एसडीओ संजय कुमार, जिला मत्स्य पदाधिकारी प्रदीप कुमार, ओएसडी संजीव कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी जयराम पाल मौजूद रहे। बैठक में डीएम ने जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (आईसीडीएस) को निर्देश दिया गया कि आंगनबाड़ी केन्द्रों को नियमित रूप से संचालित कराना सुनिश्चित करें तथा वैसी आंगनबाड़ी सेविकाओं के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई जो नियमित रूप से केन्द्र का संचालन नहीं कर रही है। साथ ही बिजली कनेक्शन, शौचालय, पेयजल एवं उपस्थिति में सुधार के लिए आवश्यक कार्रवाई करें। अनुमंडल पदाधिकारी सीवान सदर एवं महाराजगंज को जन वितरण प्रणाली केन्द्रों से संबंधित प्राप्त शिकायतों पर नियमानुसार कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। • स्वास्थ्य मनरेगा आवास योजना, पंचायत भवन संबंधी निरीक्षण प्रतिवेदनों की समीक्षा उपरान्त संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई कर अगली बैठक में आने को कहा है।

खबरें और भी हैं...