महावीरी झंडा मेला को राजकीय दर्जा दिलाने की मांग:सीएम आवास के बाहर 2 दिनों तक धरने के बाद मंत्री से मिले, कहा- दर्जा नहीं मिला तो लेंगे समाधि

सीवानएक महीने पहले
कला संस्कृति मंत्री जितेंद्र कुमार राय को ज्ञापन सौंपते अंगद।

सीवान में मौनिया बाबा समाधि स्थल पर साल 1923 से लग रहे उत्तर बिहार के सुप्रसिद्ध महावीरी झंडा मेला को राजकीय मेले की दर्जा दिलाने की मांग को लेकर बिहार वाले योगी जी के नाम से प्रसिद्ध महाराजगंज के रहने वाले अंगद कुमार, मौनिया बाबा समाधि स्थल से 135KM की पदयात्रा कर 3 दिनों में पटना सीएम आवास सोमवार की सुबह पहुंच नीतीश कुमार से मिलने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन उन्हें मिलने नहीं दिया गया। अंत में उन्होंने सीएम आवास के बाहर 7 नंबर गेट के सामने आमरण अनशन शुरू कर दिया।

आमरण अनशन के दूसरे दिन बुधवार को नवनिर्वाचित पर्यटन मंत्री कुमार सर्वजीत तथा कला संस्कृति एवं युवा मंत्री जितेंद्र कुमार राय ने अंगद को फोन करके अपने आवास पर बुलाया और मुलाकात की। बिहार वाले योगी के नाम से प्रसिद्ध अंगद ने बताया कि कला संस्कृति एवं युवा मंत्री जितेंद्र कुमार राय ने मेले को राजकीय मेला का दर्जा देने के लिए एक सप्ताह का मोहलत मांगा है। बता दे कि महाराजगंज मौनिया बाबा मेला को राजकीय मेला का दर्जा दिलाने के लिए अंगद पिछले 5 दिनों से आमरण अनशन पर हैं। उन्होंने कहा था कि अगर उन्हें राजकीय मेला की दर्जा नहीं मिलेगा वह जीवित अवस्था में ही समाधि ले लेंगे।

बिहार वाले योगी के नाम से प्रसिद्ध अंगद ने मंत्री को सौंपा ज्ञापन।
बिहार वाले योगी के नाम से प्रसिद्ध अंगद ने मंत्री को सौंपा ज्ञापन।

अंगद का कहना है कि दोनों मंत्रियों ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि 1 सप्ताह के अंदर शत प्रतिशत गारंटी के साथ उनके द्वारा मौनिया बाबा मेले को राजकीय मेला की घोषणा का औपचारिक ऐलान किया जाएगा। इस दौरान अंगद ने 27 अगस्त को उत्तर बिहार के मौनिया बाबा मेले दोनों मंत्रियों को शामिल होने का निमंत्रण भी दिया है। गौरतलब है सीवान जिले के महाराजगंज अनुमंडल शहर मुख्यालय में लगने वाले उत्तर बिहार के सुप्रसिद्ध मौनिया बाबा महावीरी झंडा मेला अपने आप में काफी इतिहास समेटे हुए हैं। इस मेले में कई राज्य और पड़ोसी राज नेपाल बांग्लादेश समेत कई जगह से श्रद्धालु शिरकत करने पहुंचते हैं। इस बार मेले में पैरा कमांडो फोर्स की व्यवस्था की गई है। जगह-जगह पर पुलिस चौकी स्थापित किए जा रहे हैं ताकि मेले में शामिल किसी भी श्रद्धालुओं को परेशानी ना होना पड़े।

खबरें और भी हैं...